Backlink Kya Hai

Backlink क्या है और क्यों जरूरी हैं | What Is Backlink In Hindi

अगर आपने हाल ही में अपना नया Blog बनाया है या आप Blogging के बारे में सीख रहे हैं तो आपने Backlinks का नाम जरूर सुना होगा. Backlink क्या है और इनका महत्व क्या है, इसे समझना नए Bloggers के लिए थोडा सा मुश्किल भरा काम हो जाता है. क्योंकि उन्हें बिलकुल भी नहीं पता होता की Backlinks क्यों जरूरी होते हैं.

लेकिन आपको टेंशन लेने की बिलकुल भी जरूरत नहीं. आज की हमारी पोस्ट What Is Backlink In Hindi में बहुत ही सरल भाषा में समझायेंगे की Backlink किसे कहते हैं और अपने Blog की Ranking को Improve करने के लिए Backlinks कैसे बनायें. यानी यहाँ आपको Backlinks की पूरी जानकारी मिलने वाली है.

अगर आपने Blogging शुरू कर दी है तो आपने SEO के बारे में जरूर पढ़ा होगा. SEO यानी Search Engine Optimization एक ऐसी पद्धति है जिससे अपनी Rankings को Improve किया जा सकता है. किसी भी Website या Blog की Success के लिए उसका सही से SEO करना बहुत जरूरी है, तभी आपको Organic Traffic मिल पायेगा.

इसी SEO का एक बहुत ही अहम् हिस्सा हैं Backlinks. आप कुछ यूँ समझ लीजिये की बिना Backlinks के आपके द्वारा किये गए SEO को हमेशा अधूरा माना जाता है. आपने हमारी पिछली पोस्ट SEO कैसे किया जाता है में पढ़ा होगा की Backlinks OFF Page SEO का सबसे महत्वपूर्ण Part है.

Backlink क्या होता है, ये समझने के लिए आपको किसी ख़ास Talent या जानकारी की जरूरत नहीं है. काफी कुछ तो इसके नाम से ही समझ आ जाता है.  “Back Link” मतलब कहीं न कहीं पीछे से आपको Link मिल रहा है या आप किसी न किसी के साथ Linked मतलब जुड़े हुए हो. चलिए Detail में समझाते हैं आपको.

Backlink क्या है – Backlinks की पूरी जानकारी

जब आप अपना नया नया Blog बनाते हो तो उस पर कड़ी मेहनत करके अच्छी अच्छी Posts डालते हो. जब आप अपनी Posts को Index होने के बाद Google Search Results में Check करते हो की मेरी पोस्ट कहाँ आ रही है? तो आपका दिल टूट जाता है.

क्योंकि या तो आपकी Post वहां होती ही नहीं है, और होती भी है तो 9th, 10th या 11th पेज पर. हमारा कहने का मतलब ये है की आपकी Posts अच्छे से Rank नहीं कर पाती. हालांकि आप देखते होंगे आपका Content उन लोगों से काफी अच्छा है जिनकि websites 1st या 2nd Page पर दिखाई दे रही हैं.

इससे आपको काफी दुःख पहुँचता है और आप थोडा Demotivate भी होते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं की ऐसा क्यों होता है? असल में पिछले 2 सालों में Google Aglorithm और उनके Rules में काफी परिवर्तन हुए हैं. काफी चीज़ें बदली हैं. उन्ही चीज़ों में से एक है Google Trust Factor.

दरअसल Google अब किसी भी नयी website को तुरंत ही अच्छी Rankings प्रदान नहीं करता. क्योंकि उसे नयी website या Blog पर पूरा विश्वास नहीं होता की ये पूरी तरह से सही है. Google पहले आपके काम के बारे में पूरी तरह से छानबीन करना चाहता है. वो आपकी हर चीज़ को समझने के लिए थोडा Time लेता है.

What Is Backlink In Hindi

जब आप लगातार 3 से 5 महीने सही और Legal तरीके से काम करते हैं तब जाकर Google को आप पर थोडा Trust होने लगता है. उसके बाद Google आपकी Posts की Ranking को धीरे धीरे Improve करने लगता है. इसी Trust Factor को जल्दी से जल्दी बढ़ाने के लिए Backlinks का Use किया जाता है और Backlinks बनाये जाते हैं.

Backlink क्या है? ये समझने के लिए पहले Google Trust Factor को समझना जरूरी है. अब आपको बिलकुल आसानी से समझ आ जाएगा की What Is Backlink. मान लीजिये आप पिछले एक महीने से लगातार अपने Blog पर काम कर रहे हैं और आपकी कोई भी Post अच्छी rank प्राप्त नहीं कर पा रही है.

मतलब Google का फिलहाल आपके ऊपर Trust 0 यानी शून्य है. अब मान लीजिये आपके ही Niche वाला कोई Blog Owner जिसका Blog काफी पुराना है और उसका DA व PA हाई है, अपने Blog की किसी Post में आपके Blog का Link लगा देता है. आपको वहां से High Quality (Do Follow) Backlink मिल जाता है.

तो अब क्या होगा? अब Google देखेगा की इतनी पुरानी और बढ़िया website ने अपनी पोस्ट में इस वेबसाइट का Link लगाया है तो इसका मतलब उस website पर भी अच्छी जानकारी उपलब्ध है. Google सोचता है की इतने पुराने Blogger को यदि इस नयी website कर भरोसा है तो हमें भी करना चाहिए.

इसी वजह से Google का आपके ऊपर Trust बढ़ने लगता है और आपकी Ranking अचानक से सुधरने लगती है. आपकी सारी पोस्ट्स धीरे धीरे ऊपर आने लगती हैं. इसी तरह जब जब आप किसी पुरानी और अच्छी Websites से Backlink बनायेंगे हर बार आपकी Ranking Improve होगी.

क्योंकि हर बार Google का भरोसा आप पर बढ़ता जाएगा. तो समझे आप? बिना Backlink बनाये जहाँ Posts को तीसरे चौथे Page तक आने में भी 5-6 महीने का समय लग रहा था, वहीँ 2-3 अच्छे Backlinks बनाने से सिर्फ 1 या 2 में ही आपकी कई बढ़िया वाली पोस्ट्स पहले या दुसरे Page पर आ जाती हैं.

तो Backlink क्या होता है और Backlinks बनाना क्यों जरूरी होता है आपको आसानी से समझ आ गया होगा. अपनी website को कम से कम समय में Rank कराने के लिए लिए हमें अच्छे Backlink बनाने की जरूरत पड़ती है ताकि जल्दी से जल्दी Google हम पर विश्वास करने लगे और हमारी पोस्ट्स को अच्छी Ranking दे.

बढ़िया Backlinks बनाने के फायदे ही फायदे हैं. इससे आपकी Posts को Google जल्दी Index करता है, अच्छी Ranking देता है और आपका DA व PA भी तेजी से बढ़ने लगता है. Backlinks बनाने में ना सिर्फ आपको Organic Traffic काफी अच्छा मिलने लगता है बल्कि जिस website पर आपका Link है वहां से भी ट्रैफिक आने लगता है.

तो बिलकुल सरल भाषा में जब आप अपनी website का Link किसी अन्य website पर डालते हैं तो उसे Backlink कहा जाता है. यानी उस website से आपकी website को Backlink मिल रहा है. आपकी website उसकी website के साथ जुड़ चुकी है. Google की नज़र आपके और उस website के बीच अच्छे सम्बन्ध हैं.

लेकिन जरा रुकिए, Backlinks भी 2 प्रकार के होते हैं. आपको उन्हें अलग अलग समझना बहुत ही जरूरी है. क्योंकि सिर्फ किसी website से Link मिलना ही काफी नहीं होता, बल्कि उसने आपको किस Type का Link दिया है ये ज्यादा महत्वपूर्ण हैं. चलिए जानते हैं Backlinks कितने प्रकार के होते हैं.

Types Of Backlink In Hindi – Backlinks के प्रकार

Blogging की भाषा में Backlink मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं. एक होता है Do Follow Backlink और दूसरा होता है No Follow Backlink. अगर आपको Backlink की पूरी जानकारी चाहिए है तो आपको इन दोनों के बारे में भी अच्छे से समझना होगा. तो चलिए पहले जानते हैं की What Is Do Follow Backlink In Hindi.

Do Follow Backlink – Do Follow Backlinks वो बैकलिंक्स होते हैं जिन्हें कोई भी व्यक्ति तो देख ही सकता है बल्कि उसे Google भी Index करता है. ये High Quality Backlink होता है जिसे Juicy Link भी कहा जाता है. क्योंकि जब आप किसी website से Do Follow Link लेते हो तो वहां से Link Juice मिलता है.

Link Juice पास होने के कारण उस website ने भी जहाँ से अपने Backlinks बना रखे हैं उनसे भी आपको कुछ फायदा होता है और आपकी Ranking Improve होने लगती है. इस प्रकार के Link पर Right Click करके “Inspect Element” पर क्लिक करेंगे तो उसमें आपको “No Follow” का Tag नहीं दिखाई देगा.

Backlink क्या है

मतलब की ये एक Do Follow Backlink है. जब Google के Crawlers इस Link पर आते हैं तो इसमें मौजूद “Do Follow” का Tag Google को संकेत देता है की इसे Index करे. Google इसे Index करता है और आपकी website का Link Google की नज़र में आ जाता है. इससे आपकी Ranking बढ़ना शुरू हो जाती है.

यानी की एक ऐसा Link जिसमें “Do Follow” का Tag दिखाई दे, या जिसमें “No Follow” का Tag न हो या किसी भी प्रकार का कोई Tag न हो बस सीधा Hyperlink हो तो उसे Do Follow Backlink कहा जाता है. आसान शब्दों में में कहें तो Do Follow Backlinks को Google Index कर लेता है बाकी दूसरों को नहीं.

Do Follow Backlink बनाने के कई फायदे हैं. एक तो आपका DA जल्दी जल्दी बढ़ता है, दूसरा आपकी Rankings में बहुत ही अच्छा सुधार होता है और तीसरा आपकी Page Authority भी Jump मारने लगती है. अब जानते हैं की No Follow Backlink क्या है और किस तरह से ये Do Follow से अलग है.

No Follow Backlinks – जैसा की इसके नाम से ही पता चल रहा है की ऐसे Backlinks में “No Follow” का Tag लगा हुआ होता है. यही “No Follow का Tag Search Engines को इसे Index करने की इज़ाज़त नहीं देता जिसकी वजह से Google या Bing वगैरह सभी search engines इसे Index नहीं करते.

इसके अलावा इनसे किसी प्रकार का Link Juice भी पास नहीं होता और इन्हें High Quality Backlinks नहीं कहा जा सकता. इस प्रकार के Links को जब आप “Inspect Element” करके Check करेंगे तो उनमें आपको “No Follow” का Tag जरूर दिखाई देगा.

ये Do Follow Backlinks का मुकाबला तो बिलकुल नहीं कर सकते लेकिन इनके भी कुछ हलके फुल्के फायदे हैं. जैसे अगर आपके कई अच्छी websites पर comment करके कई No Follow Backlinks बनाये है तो ये आपकी Domain Authority को बढ़ाने में काम आते हैं.

इसके अलावा जिस Blog पर आपने comment किया है, वहां आपके Link पर Click करके उसके Readers में से कुछ Readers आपके Blog पर भी आ जाते हैं जिससे Traffic बढ़ता है. सबसे महत्वपूर्ण बात आप अपनी website के लिए सिर्फ और सिर्फ Do Follow Backlink ही बनायेंगे तो इससे Google थोडा शक की नजरों से देखता है.

वैसे Google धीरे धीरे No Follow Backlinks के महत्व को पूरी तरह से खत्म करता जा रहा है. लेकिन संतुलन बनाये रखने के लिए Do Follow के साथ साथ No Follow backlinks भी बनायें. ये थी Backlinks की पूरी जानकारी, अब जानते हैं अपने Blog के लिए Backlinks कैसे बनाये.

How To Make Backlinks In Hindi – Backlinks कैसे बनाये

जैसा की हमने आपको बताया अगर आप Blogging में सफल होना चाहते हैं तो आपको लिंक Building यानी Backlinks की अच्छी समझ होना बहुत जरूरी हैं. Backlinks कैसे बनाये जाते हैं? Backlink क्यों बनाये और Backlinks कैसी websites से बनाने चाहिए? इन सब चीज़ों की जानकारी आपको होनी ही चाहिए.

Google ने अपने Latest Algorithm Update में सपष्ट कर दिया है की अब ऐसी Websites की खैर नहीं जिन्होंने खूब सारे Low Quality Backlinks बना रखे हैं और इन्ही के दम पर Google में Top Ranking हासिल किये हुए हैं.

Low Quality Backink क्या है ये भी हम आपको अपनी पोस्ट के अंत में बताएँगे. अभी हाल ही में (September 2019) में Google का एक बड़ा Update आया था. जिसने बहुत उथल पुथल मचाकर रख दी थी.

उसके बाद ऐसी बहुत सी websites की Ranking बिलकुल नीचे गिरा दी गयी जिन्होंने धडाधड Low Quality Backlinks बनाये हुए थे. उनके Content में उतना दम नहीं था, बस Backlinks की बदौलत वो शीर्ष पर काबिज़ थे. कुछ लोग तो बेचारे अब नए Domain पर काम करने को मजबूर हैं.

क्योंकि उनकी Backlink Profile खराब हो चुकी है. मतलब ये है की अब Google ने स्पष्ट कर दिया है की अगर Content अच्छा है तो आपको Backlinks की जरुरत नहीं. लेकिन अगर कंटेंट में दम नहीं है तो Backlinks भी आपको कोई फायदा नहीं पहुंचाएंगे. यानी अब backlinks का पहले कितना महत्व नहीं रह गया है.

पर हाँ अगर आप अच्छा काम कर रहे हैं, Quality Content Share कर रहे हैं और साथ में कुछ High Quality Backlinks भी होंगे तो उसका आपको दोगुना फायदा मिलेगा. इसलिए अब से Backlinks की संख्या पर नहीं बल्कि Backlink की Quality पर ध्यान दीजिये.

चलिए अब अपने असली मुद्दे पर आते हैं की Backlinks कैसे बनाये? देखिये वैसे तो Backlinks बनाने के कई तरीके हैं. पर यहाँ इस पोस्ट में हम आपको ये बताएँगे की Normally Backlink कैसे बनाये जाते हैं. जो की सबसे आसान और सबसे ज्यादा Use किये जाने वाले तरीके हैं.

(1) किसी दुसरे के Blog Post पर comment करके – मान लीजिये आपका Blog हेल्थ एंड फिटनेस से Related है. जाहिर सी बात है और भी बहुत से अच्छे अच्छे Health Blogs हैं. आप उनकी किसी पोस्ट में जब comment करते हैं तो वहां से आपको No Follow Backlink मिलता है.

अगर आपके द्वारा किया गया comment बहुत ही अच्छा है और comment में ही आपने अपनी website का Link भी लगाया है तो हो सकता है किस्मत से उसे Approve कर दिया जाए. तो वहां से आपको Do Follow Link भी मिल सकता है. लेकिन ऐसा होने के Chance बहुत ही कम होते हैं.

(2) Interlinking करके – Interlinking का मतलब होता है Internal Backlinks. मत जब आप अपनी किसी पोस्ट में अपनी ही किसी अन्य सम्बंधित पोस्ट का Link लगाते हो तो उसे Internal Linking कहते हैं. Internal Linking से भी आपके Blog को काफी फायदा पहुँचता है. ये SEO का ही अहम् हिस्सा हैं.

(3) Social Backlinks – आजकल बहुत सारे Social Media Platforms हैं जिनका इस्तेमाल अपनी Post को share करने के लिए करते हैं. जैसे Facebook, Instagram, Twitter और Pintrest वगैरह. तो जब हम इन पर अपना account बनाते हैं तो Profile में अपना Blog Link भी डालते हैं.

हालांकि यहाँ से आपको No Follow Link ही मिलता है पर इनसे मिला हुआ No Follow Link भी काफी फायदा पहुंचाता है. इसका कारण ये है की ये सारी websites High Domain Authority वाली होती हैं.

(4) Guest Posting – अगर आप सोच रहे हैं की Do Follow Backlinks कैसे बनाये, तो Guest Post से बेहतर तरीका कोई और हो ही नहीं सकता है. ये पूरी तरह से Legal और Geniun Way है Backlink बनाने का. सबसे पहले आप अपने Niche से Related कोई High DA व PA वाली website ढूंढिए.

उसके बाद उसके Owner से E – Mail के जरिये Contact करके Guest Post Accept करने के लिए Request करें. अगर वो Accept करते हैं तो उन्हें एक बढ़िया सी Post तैयार करके दें और उसमें अपना Link भी लगायें. वहां से आपको एक High Quality Backlink मिलेगा जो आपकी website की Rankings को जरूर Improve करेगा.

(5) Question – Answer Forms में भाग लेकर – बहुत सी ऐसी websites हैं जो जहाँ पर Users के Questions का Answer दिया जाता है. जैसे Quora एक ऐसी ही website है. आप उस पर अपना एक account बनायें. अपने Niche से Related Category को चुनें और वहां लोगों के प्रश्नों का उत्तर दें.

मान लीजिये कोई वहां पूछ रहा है की “पेट कैसे कम करे” तो वहां आप उसे उसका छोटा सा जवाब दें और साथ में अगर आपने इस चीज पर कोई पोस्ट लिख रखी है तो उसका Link डाल दें. ताकि बन्दे को आपकी पोस्ट पढ़कर उस चीज़ का जवाब मिल जाए. ऐसा करने से आपको वहां से Backlink भी मिलेगा और साथ में Traffic भी.

ये थे कुछ सबसे आसान Backlinks बनाने के तरीके, जिनका इस्तेमाल करके आप भी Backlinks बनाये. वैसे और भी बहुत सारे तरीके हैं जिनका use आप कर सकते हो. लेकिन हम आपको एक अलग Detailed पोस्ट में बताएँगे की High Quality Backlinks कैसे बनाये.

चलिए अब आखिर में आपको Low और High Quality Backlinks में फर्क समझाते हैं. थोडा आसान भाषा में आपको बताते हैं की Low Quality और High Quality Backlink क्या है. इनको समझना जरूरी है ताकि आपकी Backlink Profile खराब ना हो आपको Google की तरफ से कोई Penalty न मिले.

Low Quality Backlinks –

  • घटिया Content वाली websites से Backlink बनाना.
  • किसी ऐसी website से backlink बनाना जिसका DA व PA आपसे भी कम हो.
  • ऐसी website से Backlink बनाना जिसका Spam Score 7% से ज्यादा हो.
  • Porn Websites से Backlink बनाना.
  • अपने Topic से हटकर किसी दुसरे Niche की website से Link बनाना.

इस तरीके से बनाये गए Backlinks Low Quality बैकलिंक्स होते हैं. Low Quality Backlinks बनाने से अच्छा है की आप Backlinks ना ही बनायें. क्योंकि अगर Backlinks आपकी Rankings Improve कर सकते हैं तो Low Quality Backlinks आपकी Ranking को और ज्यादा Down कर सकते हैं.

High Quality Backlinks –

  • High Domain Authority वाली websites से Link बनाना.
  • अपने Blog के Topic से सम्बंधित website पर ही Backlink बनाना.
  • Guest Post करके Do Follow Backlink बनाना.
  • ऐसी websites से Link बनाना जिनका Spam Score बिलकुल ही कम हो.
  • ऐसी Websites से Link बनाना जिन पर काम लगातार चल रहा हो. यानी निरंतर Update हो रही हों.

इस तरीके से बनाये गए Backlinks को High Quality Backlinks कहते हैं. Backlinks के बारे में हम पूरी जानकारी आपको यहाँ दे चुके हैं. इनके बारे में और ज्यादा जानने के लिए हमारी आगे आने वाली Posts का इंतज़ार करें.

इन्हें भी जरूर पढ़ें –

यहाँ आप पढ़ रहे थे Backlink क्या है – Whats Is Backlink In Hindi. हमने आपको ये भी बताया की Backlinks कैसे बनाये और ये क्यों जरूरी होता हैं. उम्मीद है आपको आपके सारे सवालों का जवाब मिल गया होगा.

फिर भी अगर कुछ पूछना हो तो comment box में comment करके पूछ सकते हैं. हमारे साथ जुड़ने के लिए हमारे Facebook Page को Like करें व हमें सब्सक्राइब करलें. धन्यवाद.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *