Good Habits In Hindi

Good Habits And Manners In Hindi | अच्छी आदतें और शिष्टाचार

हम सबका एक सपना होता है कुछ बनने का. बचपन से ही हमारा कोई ना कोई Idle जरूर होता है जिसके जैसा हम बड़े होकर बनना चाहते हैं. लेकिन आपने कभी ये सोचा है की वो लोग इसलिए सफल हुए क्योंकि उन्होंने अच्छी आदतों और शिष्टाचार को अपने जीवन में शामिल किया. आज की हमारी पोस्ट Good Habits In Hindi में आप जानेंगे ऐसे ही Good Manners के बारे में.

बड़े बुजुर्ग कहते आये हैं की पूत के पाँव पालने में ही दिख जाते हैं. ये बात सही हो सकती है, लेकिन ये भी उतना ही सही है की बचपन में अपनाई गयी आदतें और शिष्टाचार ही हमारे चरित्र का निर्माण करते हैं. और तय करते हैं की हमारा व्यक्तित्व कैसा होगा.

Good Manners In Hindi पोस्ट खासकर उन बच्चों या Students के लिए हैं जो अपने लिए उज्जवल भविष्य का का निर्माण करना चाहते हैं और समाज में अपनी अलग पहचान बनाना चाहते हैं. लोग अच्छे अपनी अच्छी आदतों के कारण ही बनते हैं और अच्छी आदतें व संस्कार अपने अन्दर डालने पड़ते हैं, अपनाने पड़ते हैं.

Good Habits And Manners For Children In Hindi

आप खुद सोचिये आप जिसे अपना Idle मानते हैं, जिसे अच्छा बताते हैं वो आपको क्यों अच्छा लगता है? थोडा दिमाग पर जोर डालेंगे तो आपको पता चलेगा की आपको वो इसलिए अच्छा लगता है क्योंकि उसकी आदतें अच्छी हैं, उसका व्यवहार अच्छा है, उसमें Good Manners हैं और वो एक सफल व्यक्ति है और समाज में भी उसकी इज्जत है.

सही कहा न हमने, अब जरा एक बात सोचिये. वो आदमी आज सफल है उसकी इज्जत है, लेकिन ये सब हुआ कैसे. सीधी सी बात है बचपन से ही उसने अच्छी आदतें और शिष्टाचार अपनाया. इन्ही चीज़ों ने उसे समाज में इज्जत दिलवाई और सफल बनाया. तो हमारा बच्चों या Students से यही कहना है की अगर आपको भी सफल होना है तो आज से ही अच्छी आदतें अपनाइए.

Good Manners In Hindi

क्योंकि आदतें बाद में आसानी से बदलती नहीं हैं. और अगर आदतें बदल भी गयी तो आपके बारे में लोगों की राय बदलने में बहुत समय लग जाता है. अगर जीवन में आप सब जल्दी से जल्दी सफलता का स्वाद चखना चाहते हो और अपने माँ बाप का नाम रौशन करना चाहते हो तो अभी से अपने आप को बदल लीजिये. चलिए अब जानते हैं कुछ अच्छी आदतों के बारे में.

अच्छी आदतें और शिष्टाचार (Manners) – Good Habits In Hindi

चलिए अब बताते हैं वो शिष्टाचार की बातें और अच्छी आदतें जिन्हें अपनाकर आप अपने लिए बेशक एक अच्छे चरित्र का निर्माण कर सकते हो. इससे समाज में आपकी एक अलग पहचान बनेगी. क्योंकि हर व्यक्ति की पहचान उसकी आदतों के कारण ही होती है. हमारी ये पोस्ट Good Manners In Hindi बच्चों और खासकर Students के लिए है.

बस यही वो समय या दौर होता है जिसमें हम अपना जीवन खराब भी कर सकते हैं या अपने लिए एक उज्जवल भविष्य का निर्माण भी कर सकते हैं. वो कहते हैं न ये हमारा सबसे सुनहरा समय तो होता ही है पर साथ में Testing Time भी होता है. कई लोग इसमें खरे उतरते है और कई जीवन के भंवर में फंस कर रह जाते हैं. चलिए शुरू करते हैं अब.

(1) अपने माता पिता की आज्ञा हमेशा मानें – शुरू में आप लोगों को इतनी समझ नहीं होती है. लेकिन जो बड़े हो गए हैं उन्हें समझ आ ही जाता है की माता पिता बचपन में उनसे जो भी कहते थे उनके भले के लिए ही कहते थे. याद रखों भगवान् से भी ऊंचा दर्जा होता है माँ बाप का. अपने जीवन में जितने त्याग वो आपके लिए करते हैं उसका अंदाजा भी नहीं लगा सकते आप.

माँ -बाप की हर बात और हर फैसला आपके जीवन को सफल और सुखमय बनाने के लिए ही होता है. कभी भी उनको गलत समझने की भूल न करें, और उनका दिल न दुखाएं. ध्यान रहे ज्यादातर वो ही लोग आज सफल और शिष्ट हैं जो बड़े होकर भी माँ बाप के सामने बिलकुल छोटे बनकर ही रहते हैं. माँ बाप की आज्ञा का पालन करना आपके लिए सफलता की पहली सीढ़ी होगी.

(2) समय पर खाना खाएं – ये ऐसी उम्र होती है जो तय करती है की हम आगे चलकर कितने लम्बे समय तक मजबूत और स्वस्थ बने रहेंगे. आपने सुना ही होगा की नींव मजबूत होना बहुत जरूरी है नहीं तो इमारत कभी भी गिर सकती है. इसलिए अगर आपको सफल होना है तो आपको सबसे पहले स्वस्थ रहना होगा.

इसलिए हमेशा पौष्टिक भोजन करें और समय पर करें. याद रखें माँ – बाप आपको जो भोजन देते हैं वो पौष्टिक भोजन ही होता है. अपने हिसाब से वो लोग आपको पूरी तरह स्वस्थ रखने के लिए ही मेहनत करते हैं. तो जो खाना आपको दिया जाता है उसे हंसी ख़ुशी समय पर खाएं और भगवान् का सुक्रिया अदा करें.

(3) सुबह उठने और शाम को सोने का समय– Good Habits In Hindi में अब आप जानेंगे की किस प्रकार आपकी सोने और जागने की आदत आपके भविष्य को प्रभावित कर सकती है. आप किसी भी सक्सेसफुल व्यक्ति के बारे में पढ़कर देख लीजिये. उनके जीवन से आपको एक प्रेरणा जरूर मिलेगी, और वो है हमेशा रात को जल्दी सोना और सुबह जल्दी उठना.

ये बस प्रकृति द्वारा बनाया गया नियम ही लगा लीजिये की आपकी ज़िन्दगी तभी व्यवस्थित हो सकती है जब आप जल्दी सोकर जल्दी उठ जाते हैं. कभी भी रात को फालतू की चीज़ों में अपना समय खराब ना करें. रात को जल्दी सोने की आदत डालें और सुबह जल्दी उठें. ऐसा करने से आप अपने सभी कार्यों को बहुत ही अच्छे से अंजाम दे पाएंगे.

(4) हर रोज पढ़ें, समय निश्चित करें – अच्छी आदतों और शिष्टाचार के बाद आपकी पढाई ही वो जरिया है जो आपको सफल व्यक्ति बनाएगी. पढाई को लेकर कभी भी लापरवाही ना बरतें. आपके अच्छे भविष्य का निर्माण इसी चीज़ से होगा.

आज जब आप किसी भी अनपढ़ आदमी से पूछेंगे तो वो यही कहेगा की काश उस समय माँ बाप की बात मानकर अच्छी तरह पढाई कर ली होती तो जीवन इस तरह नरक न बनता. कहीं अच्छी जॉब कर रहे होते और आराम से अपना जीवन बिता रहे होते. आप ये गलती मत करना क्योंकि समय कभी दोबारा मौका नहीं देता.

बाद में सिर्फ और सिर्फ पछतावा ही बचता है. इसलिए अपने पढने के लिए समय फिक्स करें और हर रोज उस समय पर पढाई जरूर करें. हमारा तो आपसे यही कहना है की रोज कम से कम डेढ़ घंटे आप अवश्य पढ़ें.

(5) हर रोज नहायें, सुबह के समय नहायें – बहुत से बच्चे नहाने के लिए आना – कानी करते हैं. लेकिन बच्चों नहाने में सिर्फ 5 मिनट का समय लगता है. और समय पर ऐसा करने से ना सिर्फ लोग आपको अच्छा कहेंगे बल्कि आप खुद हमेशा साफ़ सुथरे और स्वस्थ रहेंगे. आपको खुद को बहुत अच्छा लगेगा क्योंकि नहाने से तनाव कम होता है.

हर रोज आपको नहाकर ही स्कूल जाना चाहिए. आपका मन सदा प्रसन्नचित रहेगा और आपका दिमाग शांत. इससे आपको पढाई में बहुत मदद मिलती है. आप अच्छे से पढाई कर पाते हैं. ये कुछ जरूरी और Good Habits For Students In Hindi हैं जिन पर ध्यान देना जरूरी है.

(6) अपने सामान को सही जगह संभाल कर रखें– बहुत से बच्चे ऐसे होते हैं जो स्कूल से आते ही अपना स्कूल बैग, जूते, टाई, बेल्ट और ड्रेस को इधर उधर फेंक देते हैं. ये बहुत ही बुरी आदत है बच्चों. ऐसा करने से आप ना सिर्फ दूसरों के सामने बुरे बनते हो बल्कि सुबह स्कूल जाते समय कोई सामान ना मिलने पर भी आपको दिक्कत का सामना करना पड़ता है.

अगर आप भी ऐसा करोगे तो आप दुसरे खराब बच्चों की तरह ही बन जाओगे. अपनी इस आदत को सुधारिए, अपने सारे सामान को सही जगह पर संभलकर रखें. इसी तरह आप जिस कमरे में पढाई करते हो उसे भी बिलकुल साफ़ और व्यवस्थित रखें. सब कुछ साफ़ सुथरा दिखने पर आपका मन पढाई में लगेगा और दूसरों की नज़रों में भी आप अच्छे बच्चे बनोगे.

Good Habits In Hindi

(7) बुरी संगत से बचो– आपके माता पिता आपको जरूर कहते होंगे की उस लड़के के साथ मत रहो या उसके साथ मत रहो. ऐसा कहने पर आपको गुस्सा भी आता होगा. लेकिन क्या आप जानते हैं की वो ऐसा क्यों कहते हैं? वो आपसे कहीं ज्यादा समझदार है और उनको पता है की अगर आप उनके साथ रहेंगे तो आपका भविष्य खराब हो सकता है.

तो अपने माँ बाप की बात को सुनो और बुरी संगत से हमेशा बचो. बहुत से ऐसे उदाहरण आपको देखने को मिल जाते हैं की कई बच्चे पढाई में अव्वल होने के बाद भी बर्बाद हो जाते हैं. उनका भविष्य खराब हो जाता है क्योंकि बचपन से ही उनकी संगत बुरी हो जाती है और फिर वो अपनी राह से भटक जाते हैं. इसलिए इस चीज़ का ख़ास तौर से ध्यान रखें.

(8) स्कूल में व्यव्हार – घर से जब आप स्कूल जाते हैं तो वहां भी अपना व्यव्हार सबके साथ अच्छा रखें. ये समाज में आपकी इज्ज़त बढ़ाने का काम करेगा. अपने अध्यापकों का हमेशा सम्मान करें, उनकी हर बात मानें. सभी बच्चों के साथ मिलजुल कर रहो और किसी के साथ झगडा तो बिलकुल मत करो.

सबसे मीठा बोलो और अपने से बड़ी क्लास वाले विद्यार्थिओं की इज्जत करो. इस तरह से बहुत ही कम समय में आप सबके प्रिय बन जाओगे और हर कोई आपके बारे में अच्छा ही बोलेगा. स्कूल के किसी भी सामान को खराब ना करें. हर रोज स्कूल जाएँ और सही समय पर जाएँ.

(9) साफ़ और स्वच्छ कपडे पहने– अगर हमेशा साफ़ सुथरे कपडे पहनेंगे तो आप खुद भी अपने आप को आत्म विश्वास से भरे पायेगे और दूसरों को भी अच्छे लगेंगे. हर कोई यही कहेगा की वो लड़का हमेशा साफ़ सुथरा रहता है. आपको इतना तो पता ही होगा की मैले कुचैले लोगों के पास कोई भी बैठना पसंद नहीं करता. यहाँ तक की कोई उनसे बात भी नहीं करना चाहता.

इसके अलावा साफ़ कपडे पहनने से आप हमेशा स्वस्थ भी रहोगे. मैले कपड़ों के कारण कई तरह के रोग लग सकते हैं. इसलिए इस बात का हमेशा ध्यान रखें, ये बात भी जरूरी Good Habits For Students में ही आती है.

(10) बड़ों का सम्मान करें – आपको बड़ों का सम्मान सिर्फ स्कूल में ही नहीं करना है बल्कि स्कूल से आने के बाद भी ये बात ध्यान रखनी है. आपके आस पास रहने वाले सभी लोगों का आपको सम्मान करना है. बड़ों को नमस्ते या राम राम करें, या फिर उनके पैर छूकर आशीर्वाद ले सकते हैं. इसमें कोई बुरी बात नहीं होती, आपको शरमाना नहीं है.

किसी से तू – तड़ाक से बात ना करें, किसी को अपशब्द ना कहें. हमेशा एक बात का ध्यान रखें की जब आप भी आप किसी को अपशब्द बोलते हो तो सामने वाला आपके माँ बाप को कोसता है. उसके मन में यही बात आती है की इसके माँ बाप ने इसको कुछ सिखाया ही नहीं. अपने माता पिता की बेज्जती ना होने दें.

Good Manners For Children In Hindi  बच्चों के लिए शिष्टाचार

– खाना खाते समय बातें ना करें, आराम से बैठकर खाएं. खाना खाते वक़्त मुहं से ज्यादा आवाज़ ना करें, आराम से चबा चबाकर खाना खाएं. अगर चम्मच का इस्तेमाल कर रहे हैं तो चम्मच को दाँतों के साथ टच ना करें.

– हमेशा अनुशाशन में रहने की आदत डालें. अगर कहीं खड़े हैं तो सही से कमर सीधी रखते हुए खड़े हों. और अगर बैठे हुए हैं तो तमीज से बैठें, इधर उधर पैरों को फैलाकर ना बैठें.

– बच्चों को नशे की चीज़ों से दूर ही रहना चाहिए. बल्कि हम तो ये कहेंगे की जो नशा करते हैं आप लोग उनके पास ही ना जाएँ. नशे की लत जीवन को बर्बाद कर देती है.

– सार्वजनिक जगह पर अपनी हरकतों पर काबू रखना बहुत जरूरी है. ऐसी जगहों पर थूकना, पेशाब करना, जोर से डकार लेना या गैस पास करना आपको शर्मिंदा तो करेगा ही आपकी इमेज भी खराब होगी. इसलिए इन बातों का ध्यान रखें.

– किसी से भी कोई चीज़ मांगने से पहले Please कहें और अगर किसी ने आपकी मदद की है तो Thanks बोलना बिलकुल ना भूलें. इसी तरह से अगर आपको किसी ने थैंक्स कहा है तो आप Welcome जरूर बोलें. ये Children के लिए Good Habits And Manners में आने वाली बेसिक बातें हैं.

– मूत्र त्याग करने के बाद कभी भी अपने हाथ धोना ना भूलें. इसी तरह से खाना खाने से पहले और खाना खाने के बाद भी अपने हाथ अच्छे से धोएं.

– अगर कहीं पर भी आपको छींक आ रही है तो मुहं पर रुमाल रखके छींके. इसमें आपका शिष्टाचार झलकेगा.

– कभी भी इधर उधर कूड़ा कचरा नहीं फैलाना चाहिए. चाहे वो आपका घर हो स्कूल हो या फिर कोई Public Place.

– अगर कोई नीचे गिरी हुयी चीज़ आप उठाना चाहते हैं तो तमीज से नीचे झुकना चाहिए. घुटनों को सीधा रखते हुए झुकने के बजाय घुटनों को मोड़कर नीचे बैठकर वो चीज़ उठाइए.

– किसी से बात करते हुए उन्हें “आप” का संबोधन करते हुए बोलना चाहिए. किसी से तू कहकर बात नहीं करनी चाहिए. खासकर अपने से बड़ी उम्र के लोगों से.

– बच्चों के साथ भी हमेशा प्यार से बात करें. अगर किसी की उम्र आपसे कम है तो इसका मतलब ये नहीं की आप उनके साथ बुरा व्यव्हार करें.

तो ये थे कुछ बेहतरीन Good Manners For Children And Students हिंदी में जिन्हें आपको अपने जीवन में लागू करना है. अगर आप इन बातों को मानकर चलेंगे तो निश्चित ही आप एक सफल और इज्ज़तदार व्यक्ति बनेंगे जिसकी समाज में सब इज्जत करेंगे.

इन्हें भी जरूर पढ़ें-

तो कैसी लगी आपको हमारी पोस्ट Good habits In Hindi – Good Manners For Children Or Students हमें comment करके जरूर बताइयेगा. पोस्ट पसंद आई हो तो Like और Share जरूर करना. हमारे साथ जुड़ना चाहते हैं तो हमारे फेसबुक पेज को Like करलें व हमें सब्सक्राइब करलें. धन्यवाद.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *