आसमानी बिजली क्यों गिरती है कारण और वजह

आसमानी बिजली क्यों गिरती है | आसमानी बिजली से कैसे बचे

बारिश के मौसम में अक्सर आपने बिजली का चमकना और कडकना देखा होगा. कई बार तो ये इतनी जोर से आवाज़ करती है की हम सब सहम जाते हैं. क्या आप जानते हैं की आसमानी बिजली क्यों गिरती है? आज हम आपको बताने जा रहे हैं आसमानी यानी आकाशीय बिजली गिरने के कारण या वजह और इससे बचने के कुछ उपाय.

दोस्तों बिजली के चमकने और गिरने में फर्क होता है. कई बार बहुत जोर से चमक के साथ साथ काफी तेज आवाज़ भी आती है. लेकिन हर बार बिजली गिरी ही हो ये जरूरी नहीं है. बादलों के आपस में जोर से टकराने पर भी आवाज़ आ सकती है. यहाँ हम इसके गिरने की वजह जानने के साथ साथ ये भी जानेंगे की आकाशीय या आसमानी बिजली से कैसे बचे.

ताकि इससे होने वाले नुकसानों से हम बच सकें. आपको याद होगा आपका बचपन, जब बारिश शुरू होते ही हम कपडे उतारकर बारिश में नहाने के लिए दौड़ पड़ते थे. उस वक़्त बारिश शान्ति के साथ होती थी. उस समय बिजली गिरने की घटना कभी कभार ही होती थी. आप भी इस बात से सहमत जरूर होंगे.

लेकिन हाल के वर्षों में मौसम का मिजाज़ बिलकुल बिगड़ चुका है. अब जब भी बारिश होती है, कहीं न कहीं बिजली गिरने की बात सुनने में आ ही जाती है. ये सब पर्यावरण असंतुलन और Global Warming की वजह से हो रहा है. आखिर धरती पर आसमानी बिजली क्यों पड़ती है?

सही समय पर बारिश का ना हो पाना भी इसका एक बड़ा कारण है. सही समय पर बारिश होने में पेड़ों, पहाड़ों और जंगलों का बड़ा हाथ होता है. लेकिन जैसे जैसे समय आगे बढ़ रहा है वैसे वैसे इन सबकी संख्या घटती जा रही है. हमने इन सब चीज़ों का इतना दोहन किया है की मौसम के मिजाज़ को ही बिगाड़ कर रख दिया है.

पिछले 5 से 7 सालों में आसमानी बिजली गिरने से दुनिया भर में 100000 से भी ज्यादा मौतें हुयी हैं. जिसे Normal बात कहना बिलकुल भी सही नहीं होगा. हमें वक़्त रहते संभलना होगा. चलिए अब आपको बिलकुल ही आसान भाषा में समझाते हैं की आसमानी बिजली गिरने की क्या वजह है?

आसमानी बिजली गिरने के कारण – आसमानी बिजली क्यों गिरती है

हम यहाँ बिलजी गिरने की घटना को थोडा Detail में समझाने की कोशिश करेंगे. देखिये जैसा की हम सब जानते हैं की ब्रह्माण्ड में मौजूद किसी भी चीज़ के सबसे छोटे कण को अणु कहते हैं. ये भी हम सब जानते हैं की हर अणु में तीन चीज़ें मौजूद होती है, Nuetrons, Protons और Electrons.

Nuetrons में किसी प्रकार की कोई उर्जा नहीं होती, Protons में Positive Energy पाई जाती है और वही Electrons में Negative Energy समाहित होती है. अब आसमानी बिजली क्यू गिरती है, इस Process को सही से समझने के लिए पहले ये जानते हैं की बारिश कैसे होती है? उसके बाद आपको सारा मामला आसानी से समझ आ जायेगा.

आसमानी बिजली से कैसे बचे, जरूरी उपाय

आप सबने सुना होगा गर्मी के मौसम में जब तापमान अत्यधिक होता है तो समुन्द्रों का पानी भाप बनकर ऊपर उड़ता रहता है. यही भाप ऊपर जाकर बादल का रूप लेती है. जितना ज्यादा पानी भाप बनकर ऊपर इकठ्ठा होता रहेगा उतने ही बड़े बड़े बादल आसमान में बनेंगे.

बादलों का बनना अनवरत जारी रहता है. अणु वाली बात बादलों पर भी लागू होती है. अगर किसी बादल को भी यदि छोटे छोटे टुकड़ों में (अणु के स्तर) तक विभाजित किया जाए तो उसमें भी Nuetrons, Protons और Electrons तीनों पाए जायेंगे. क्योंकि किसी वस्तु के छोटे टुकड़े में भी वही गुण पाए जाते हैं जो उसके बड़े रूप में होते हैं.

आपको तो पता ही है की बादल आसमान में इधर उधर घुमते रहते हैं. जब ये आपस में टकराते हैं या इनमें घर्षण होता है तो Electrons एक बादल से दुसरे बादल में जाते हैं. अब चूँकि Electrons जायेंगे तो इसका मतलब ये हुआ की ये अपने साथ Negative Energy भी लेकर जायेंगे.

बादलों की इसी टक्कर के चलते एक बादल में Positive Charge ज्यादा हो जाता है और दुसरे बादल में Negative Charge. आसमान में बिजली चमकने का कारण बादलों का एक दूसरों से टकराना ही होता है. जब बादल एक दुसरे से टकराते हैं तो Opposite Charge के कारण बड़ी मात्रा में बिजली पैदा होती है.

यही बिजली जब बहुत तीव्र होती है तो आसमान में कोई Conductor ढूढने की कोशिश करती है. लेकिन आसमान में ऐसा कोई Conductor मौजूद नहीं होने के कारण ये जमीन पर कोई Conductor ढूंढकर उस पर गिर जाती है. इस आकाशीय घटना से कभी कभी बहुत ही बड़ा नुकसान हो जाता है.

आपको शायद पता ना हो की आसमानी बिजली ठीक वैसी ही बिजली होती है जैसी हम अपने घरों में Use करते हैं. फर्क बस इतना है की हम 220 वाल्ट का इस्तेमाल करते हैं लेकिन आसमानी बिजली की शक्ति 10 करोड़ वाल्ट के लगभग होती है. आप अंदाजा लगा सकते हैं की कितनी खतरनाक होती है ये.

तो आसमानी बिजली क्यों गिरती है आप अच्छी तरह से समझ गए होंगे. अब बात करते हैं आसमानी बिजली से बचने के उपाय क्या हैं? इससे बचने के लिए क्या करें ताकि इसके गंभीर नुकसानों से बचा जा सके. चलिए जानते हैं हमें आसमानी बिजली से बचने के लिए क्या क्या सावधानी बरतनी चाहिये.

आसमानी बिजली से कैसे बचे – आकाशीय बिजली से बचने के उपाय

जैसा की हमने आपको बताया की आसमानी बिजली की ताकत 10 करोड़ वाल्ट से भी ज्यादा हो सकती है. इतनी भयानक शक्ति यदि जमीन पर गिरेगी तो नुक्सान तो करेगी ही. अभी हाल में हमने हरयाणा में बिजली गिरने की एक घटना में मारे गए 2 युवा और 1 युवती की खबर पढ़ी थी.

वो तीनों अपने खेत में काम कर रहे थे और बारिश जारी थी. जैसे ही उन तीनों ने पेड़ के नीचे शरण लेने की सोची और पेड़ के पास पहुंचें अचानक ही उन पर बिजली गिर गयी. उन तीनों की तुरंत ही मौत हो गयी, उनका पूरा शरीर नीला पड़ गया था. जांच के बाद पता चला की जैसे ही बिजली गिरी उनकी हृदयगति रुक गयी, जिससे उनकी मौत हो गयी.

उनकी सबसे बड़ी गलती तो ये थी की वो ऐसे मौसम के बावजूद अपने खेत में काम कर रहे थे. और इससे भी बड़ी गलती उन्होंने ये की की उन्होंने पेड़ के नीचे खड़े होने का फैसला लिया. पेड़ आसमानी बिजली के लिए एक बहुत ही अच्छे और सुगम Conductor का काम करता है, इसलिए हमें कभी भी बारिश में पेड़ के नीचे नहीं खड़ा होना चाहिए.

ऐसे ही और भी आसमानी बिजली से बचने के उपाय और तरीके हैं जिन पर यहाँ हम बात करेंगे जिससे इसका खुद पर गिरने का खतरा 75% तक कम किया जा सकता है. तो चलिए जानते हैं इससे बचने के लिए कुछ Tips व सावधानियां.

(1) आप चाहे कहीं भी हों घर के अन्दर हों या बाहर अगर तेज बारिश हो रही है तो कोशिश करें की अपने Mobile का इस्तेमाल ना करें. बल्कि हम तो आपको यही सलाह देंगे की आप अपने मोबाइल को बंद कर दें. क्योंकि Mobile भी एक Conductor का काम करता है.

(2) बारिश के दौरान आपको कोशिश करनी चाहिए की आप अपने घर पर ही रहें और आसमानी बिजली के सीधे संपर्क में ना आयें. अगर आप अपने घर से बाहर हैं कोशिश करें की जल्दी से जल्दी किसी कमरे या बिल्डिंग में पहुँच जाएँ.

(3) जैसा की हमने बताया की बारिश में भीगने से बचने के लिए बहुत से लोग पेड़ के नीचे खड़े हो जाते हैं. ऐसा करना खतरे से खाली नहीं है, कभी भी पेड़ के नीचे ना खड़े हों. आपको समझ आ जाना चाहिए की पेड़ पर इतनी आसानी से आसमानी बिजली क्यों गिरती है? क्योंकि वो एक बेहद ही सरल conductor है.

(4) अगर आप घर के अन्दर भी हैं और बारिश चल रही हो और बिजली भी कड़क रही हो तो नंगे पैर ना रहें. तुरंत ही चप्पल या जूते कुछ पहन लें. या फिर आप आराम से अपने Bed पर बैठ जाएँ या लेट जाएँ. पर नंगे पैर जमीन पर ना रहें.

(5) ऐसे मौसम में आपको Electric चीज़ों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. जब भी बिजली कड़क रही हो तो सभी Electric चीज़ों को बंद रखें बल्कि Plugs को भी बाहर निकालकर रखें.

(6) आजकल लोग Mobile के charger को Plug In करके छोड़ देते हैं और उसका Switch भी हमेशा On रहता है. ध्यान रखें ये एक बहुत ही बड़ी गलती साबित हो सकती है. आप ना सिर्फ Switch को बंद करें बल्कि अपने Charger को बाहर निकालकर रखें.

आसमानी बिजली क्यों गिरती है कारण और वजह

(7) आसमानी बिजली से बचने के उपाय तो वैसे और भी बहुत से हैं, पर एक उपाय ऐसा है जो इसका खतरा बिलकुल ही कम कर देता है. वो है अपने घर की छत पर एक एंटीना लगवाना जो की earthing का काम करेगा. आप किसी भी Electrician से कहकर ये एंटीना लगवा सकते हैं.

(8) अगर आप ऐसे मौसम में कहीं बाहर खुले मैदान में हैं और बिजली जोर जोर से कड़क रही है. तो जब तक आप दौड़कर किसी सुरक्षित जगह ना पहुँच जाएँ तब तक अपने कानों को अपने हाथों से जोर से दबा लें. क्योंकि अगर बिजली आपके आस पास यदि किसी पेड़ पर गिरती है तो इससे आपके कान के परदे फट सकते हैं.

(9) अगर आप कहीं बाहर है और आपके साथ कई और लोग भी हैं तो कोशिश करें की एक दुसरे से दूर दूर रहें. एक दुसरे का हाथ पकड़ कर कभी ना रहें. साथ ही दोनों पैरों के पंजों को खुला रखते हुए दोनों एड़ियों को बिलकुल सटाकर उकडू बैठ जाएँ.

(10) बारिश में छतरी लेकर घूमना भी ठीक नहीं कहा जा सकता. इसके अलावा ऐसे मौसम में बिजली के तारों व खम्भों से भी दूरी बनाकर रखें. ऐसी चीज़ों पर बिजली बहुत ही जल्दी गिरती है.

तो यहाँ आपने जाना की आसमानी बिजली से कैसे बचे. वो कहते है न सावधानी में ही भलाई है. वरना आसमानी बिजली किसी भी इंसान को इतना नुकसान पहुंचा सकती है की आप सोच भी नहीं सकते. हालांकि रिपोर्ट्स बताती है की बिजली गिरने से सिर्फ 15% लोगों की ही मौत होती है बाकी सब बच जाते हैं.

पर बचने का मतलब ये नहीं की वो आगे एक खुशहाल और स्वस्थ जिंदगी जीते हैं. उनका बहुत ही बुरा हाल हो जाता है. जैसे ही बिजली किसी इंसान पर गिरती है तो वो सेकंड के हजारवें हिस्से तक ही उसके शरीर में ठहर पाती है और निकल जाती है. यही कारण है की ज्यादातर इंसान बिजली गिरने के बाद बच भी जाते हैं.

पर उनके tissues पूरी तरह से जलकर Damage हो जाते हैं और सभी Nerves भी जलकर नीली पड़ जाती हैं. आप किसी ऐसे इंसान की तस्वीर देखना जिस पर बिजली गिरी हुयी हो. उसके पूरे शरीर पर आपको बहुत सी बारीक बारीक नीली लाइन्स दिखाई देंगी जैसे किसी ने उस पर Tattoo बनाया हो. ये सब नसों के जलने के कारण होता है.

बहुत से लोगों के कानों के परदे फट जाते हैं, कुछ पागल हो जाते हैं और कुछ की मौत बिजली गिरने के घटना के कुछ दिन बाद Nervous System या Heart के fail हो जाने के कारण हो जाती है. अत: सावधानी ही इससे बचने का एक तरीका है.

आसमानी बिजली से सम्बंधित रोचक तथ्य – Amazing Facts About Sky Lightning In Hindi

(1) दरअसल हम समझते हैं की जब बिजली गिरने की जोर की आवाज़ आती है उसी वक़्त बिजली गिरती है. लेकिन हकीकत ये है की बिजली उससे कुछ सेकंड पहले गिर चुकी होती है.

बिजली जब एक दम तेजी से चमकती है उसी वक़्त गिर चुकी होती है. बिजली तब आवाज़ करती है जब वो गिरने के बाद एक दम से ऊपर उठती है. इसका कारण ये हैं की प्रकाश की गति ध्वनी से तेज होती है.

(2) जब आसमानी बिजली गिरती है तो उसमें इतनी ताकत होती है की वह पूरे 1 महीने तक पूरे 1 गाँव को रोशन रख सकती है.

(3) आज तक बिजली गिरने पर जितनी भी रिसर्च की गयी है उससे पता चला है की बिजली गिरने के सबसे ज्यादा चांस दोपहर के समय में होते हैं.

(4) आपको शायद ज्ञात नहीं होगा की आसमानी बिजली X – Ray किरणों से लेस होती है.

(5) आंकड़ों के मुताबिक आसमानी बिजली में महिलाओं के मुकाबले 4 से 6 गुना ज्यादा पुरुष मारे जाते हैं. अब इसके पीछे क्या reason है अभी पता नहीं चल पाया है.

(6) वैज्ञानिकों के अनुसार अगले 50 सालों में बिजली गिरने की घटनाएँ 30 से 35% तक बढ़ जाएँगी.

(7) अगर किसी व्यक्ति के सिर पर बिजली गिर जाए तो उसके कान के परदे फट जाते हैं, Nervous System फेल हो जाता है और सभी Tissues जलकर नष्ट हो जाते हैं. ऐसे व्यक्ति को ठीक करना लगभग नामुमकिन हो जाता है.

(8) बिजली गिरने से एक ही बार में सबसे बड़ा नुकसान अमेरिका में हुआ था. जब सन 1939 में एक Farm में बिजली गिरने से एक साथ 800 से ज्यादा भेड़ें मारी गयी थी.

(9) पूरे विश्व में हर मिनट ढाई हज़ार से ज्यादा बार आसमानी बिजली जमीन पर गिरती है.

(10) अगर बारिश तूफानी ना हो, या शान्ति से धीरे धीरे बूंदाबांदी हो रही हो तो भी बिजली गिर सकती है. इस चीज़ को लेकर हमेशा सचेत रहें.

इन्हें भी जरूर पढ़ें –

तो आशा करते हैं की आप अच्छी तरह से जान गए है आकाशीय या आसमानी बिजली क्यों गिरती है और आसमानी बिजली से कैसे बचे. हमने यहाँ जितने भी बिजली से बचने के उपाय बताये हैं उन्हें हमेशा अपने दिमाग में रखें.

अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई हो और जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे Like और Share जरूर करें. अगर आप हमारे साथ जुड़ना चाहते हैं तो हमारे Facebook Page को Like करलें व हमें Subscribe करलें. ताकि आपको हमारी हर नयी पोस्ट के बारे में सबसे पहले पता चल जाए. धन्यवाद.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *