Traffic Rules Of India In Hindi

Traffic Rules Of India In Hindi | भारत में यातायात के नियम

हर देश की सरकार ने अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए कुछ जरूरी यातायात के नियम बनायें हैं. जिनका पालन करना हमारी जिम्मेदारी है और इनका लाभ भी हमें ही मिलता है. Traffic Rules Of India In Hindi पोस्ट में आप जानेंगे अपने पास कोई वाहन रखने और उसे सड़क पर चलाने के लिए कुछ बहुत ही जरूरी नियम.

जिनका अगर आपने पालन नहीं किया तो आप जुर्माने के हक़दार होंगे. हर तरह के नियम को तोड़ने के लिए अलग अलग तरह का जुर्माना आपको भरना होगा. इस बात को लेकर बहुत से लोगों में रोष भी है. लेकिन हर व्यक्ति को ये समझना चाहिए की कोई भी नियम अगर सरकार द्वारा लागू किया जाता है तो उसमें लोगों की भलाई ही होती है.

हम आये दिन अखबारों, मोबाइल और टी वी वगैरह में Accidents में हुयी मौतों की खबरे सुनते और देखते रहते हैं. जरा सोचिये और हिसाब लगाइए की सरकार द्वारा Traffic के नियम इतनी सख्ती से लागू करने के बाद भी लोग इतने लापरवाह हैं. तो सोचिये अगर किसी भी तरह का कोई नियम ना होता तो क्या होता.

हर रोज होने वाले Accidents में जबरदस्त वृद्धि हो जाती. गाडी चलाने के लिए जो नियम बनाये गए हैं वो हमारी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बनाये गए हैं. और जुर्माना इसलिए लगाया जाता है ताकि कोई भी व्यक्ति दुबारा वो गलती करते समय 100 बार सोचे. इसलिए हमें सरकार का साथ देते हुए दिल से सभी नियमों का पालन करना चाहिए.

Traffic Rules In India In Hindi – भारत में यातायात नियम

हम सब जानते हैं की सड़क पर कोई भी गाडी चलाते हुए सावधानी बहुत ही जरूरी है. लेकिन ये भी सच है की सावधान करने के लिए लोगों में थोडा डर पैदा करना भी जरूरी है, अन्यथा वो लापरवाह हो जाते हैं. ये तो आप सभी ने सुन ही रखा होगा की सावधानी हटी, दुर्घटना घटी. 1 गलती आपसे ना सिर्फ अपनी बल्कि किसी दुसरे की जिंदगी भी छीन सकती है.

यातायात के नियम

सड़क दुर्घटनाएं कई कारणों से होती हैं, जैसे किसी बच्चे द्वारा गाड़ी चलाना, शराब पीकर गाडी चलाना या जानबूझकर खराब ड्राइविंग करना. इसके अलावा बहुत से ऐसे लोग भी हैं जिन्हें Traffic Rules Of India यानी यातायात नियमों का अच्छे से पता भी नहीं होता. वो सड़क किनारे बनाये गए संकेतों और Signal Signs को नहीं समझ पाते.

जिसके चलते भी दुर्घटना की आशंका बनी रहती है. हम ये चाहते है की हर आदमी को ये पता होना चाहिए की भारत में यातायात के नियम कौन कौन से हैं. हर युवा को Driving शुरू करने से पहले अपने देश के यातायात नियमों का पता चाहिए. तो चलिए जानते हैं India के Traffic Rules के बारे में.

यातायात के नियम – Traffic Rules Of India In Hindi

(1) ड्राइविंग की सही उम्र – भारत के यातायात नियमों में से सबसे पहला नियम तो यही है की अगर आप सड़क पर गाडी चलाना चाहते हैं तो आपकी उम्र कम से कम 18 साल होना जरूरी है. अगर इससे कम उम्र का कोई भी लड़का या लड़की वाहन चलाते हुए पकडे जाते हैं तो ये बहुत ही बड़ा अपराध माना जायेगा.

अभी हाल ही में सरकार इस नियम पर और भी ज्यादा सख्त हो गयी है. सरकार ने फरमान दिया है की अगर कोई कम उम्र में गाडी चलाते हुए पकड़ा जाता है तो ना सिर्फ उसके खिलाफ कारवाई की जायेगी बल्कि गाडी के मालिक को भी नहीं बक्शा जाएगा.

(2) लाइसेंस व गाडी के कागज़– अगर आप भारत की सड़कों पर गाडी चलाना चाहते हैं तो आपके पास खुद का License होना बहुत ही जरूरी है. सिर्फ इसी से काम नहीं चलेगा बल्कि आप जो गाडी चला रहे हैं उस गाडी के सभी कागजात पूरे होने चाहिए. जैसे R.C, Insurance और Pollution Slip वगैरह.

अन्यथा आपका चालान होगा और आपको जुर्माने के तौर पर बड़ी रकम भरनी पड़ सकती है. अब Traffic Rules In India बहुत ही सख्त हो चुके हैं. पहले जैसी लापरवाही बिलकुल नहीं चलेगी.

(3) हेलमेट – लोगों की सुरक्षा को लेकर सरकार बहुत सचेत है और इसीलिए Helmet को लेकर सरकार कोई भी कोताही नहीं बरतना चाहती. यही कारण है की सरकार ने हेलमेट पहनना बहुत ही जरूरी कर दिया है. यही नहीं पहले सिर्फ Driving करने वाले व्यक्ति को हेलमेट पहनना होता था.

लेकिन अब पीछे बैठने वाले व्यक्ति को भी Helmet पहनना जरूरी है. अन्यथा आप पर जुर्माना जरूर लगेगा. इसके अलावा Bike पर 2 से ज्यादा लोगों के बैठने पर भी जुर्माने का प्रावधान कर दिया गया है. इसलिए आप ऐसी गलती ना करें.

(4) गलत पार्किंग – पार्किंग के लिए भी अब भारत में यातायात के नियम सख्त किये जा रहे हैं. अगर आपने अपनी कहीं भी ऐसे ही Park करदी है और दूसरों को इससे परेशानी हो रही है या कहीं जाम लग रहा है तो ये भी एक अपराध है.

इसके लिए भी जुर्माने का प्रावधान किया गया है. यहाँ तक की आपकी गाडी को जब्त भी किया जा सकता है. इसलिए आपको भली भाँती पता होना चाहिए की आपको आपकी गाडी पार्किंग के लिए बनायीं गयी जगह पर ही आप पार्क करें.

(5) गति सीमा – भारत में Main Roads के लिए Bike, Car या फिर ट्रक वगैरह के लिए अलग अलग गति सीमा तय की गयी है. अगर आप उस गति सीमा को पार करते हैं यानी गाडी उससे तेज चला रहे हैं तो आप जुरमाना भरने के लिए तैयार रहिये. कभी भी ट्रैफिक पुलिस आपको पकड़ सकती है.

आम तौर पर Bikes के लिए ये गति सीमा 60 किलोमीटर प्रति घंटा और बड़े साधनों के लिए 70 किलोमीटर प्रति घंटा होती है. आपको चाहिए की आप यातायात के इन जरूरी नियमों की कभी भी अवहेलना ना करें.

(6) One Way Road Rules – हर देश में अब लगभग हर जगह आने और जाने के लिए अलग अलग Roads बनाये जा रहे हैं. लेकिन फिर भी बहुत सारे लोग या तो जाने के लिए आने का रास्ता चुनते हैं या फिर आने के लिए जाने वाला रास्ता.

Traffic Rules Of India In Hindi

ये लापरवाही बहुत महँगी पड़ सकती है और ये भी एक अपराध है. One Way का Idea लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ही काम में लाया गया था. इसलिए हमेशा Rules को follow करते हुए आने के लिए आने का रास्ता और जाने के लिए जाने का रास्ता ही चुनें. Traffic Rules Of India को अच्छे से जानने के बाद ही खुद को अच्छा ड्राईवर मानें.

(7) ट्रैफिक सिग्नल्स – सड़कों पर सुरक्षित सफ़र करते रहने के लिए Traffic Signals को समझना बहुत ही जरूरी है. ये सच है की भारत देश में लोगों की एक बड़ी तादाद को Signals के बारे में सही से नहीं पता की कौनसा सिग्नल किसलिए होता है. तो चलिए बताते हैं आपको.

  • लाल सिग्नल – अगर आप कहीं जा रहे हैं और रास्ते में कहीं Red Signal दिखाई दिया है तो इसका मतलब है रुक जाएँ. जी हाँ लाल सिग्नल का मतलब होता है रुकना. अन्यथा कोई ना कोई हादसा हो सकता है.
  • पीला सिग्नल – जब आप Traffic Lights को कभी ध्यान से देखेंगे तो पायेंगे की Red Signal के बाद Yello यानी पीला सिग्नल होता है. इसका मतलब है की चलने के लिए तैयार हो जाएँ. लेकिन सिर्फ तैयार होना है, चलना नहीं है. ये ध्यान देने वाली बात है, कई लोग रेड सिग्नल बदलते ही चल देते हैं और हादसे का शिकार हो जाते हैं.
  • हरा सिग्नल – Green Signal चलने का संकेत होता है. Yellow Signal के बाद हरा सिग्नल होता है, जिसके बाद आप चल सकते हैं.

(8) हॉर्न का गलत इस्तेमाल – अगर आप किसी व्यस्त सड़क पर चल रहे हैं और बार बार हॉर्न बजा रहे हैं तो आप गलत कर रहे हैं. हॉर्न का इस्तेमाल जरूरत पड़ने पर ही करना चाहिए. कई लोग बहुत ही तेज बजने वाला Horn लगवा लेते हैं और उसे बार बार बजाकर लोगों का ध्यान खींचने का प्रयाश करते हैं.

ध्यान रखें Horn का सही Use करना भी यातायात के नियमों में से एक है. अगर आप इसका उल्लंघन करते हुए पाए गए तो ध्वनी प्रदुषण के जुर्म में आपको जुर्माना भरना पड़ सकता है.

(9) लेन अनुशाशन – अगर कहीं किसी जगह पर जाम की स्थिति बन गयी है तो आपका फ़र्ज़ बनता है की आप आप अपनी गाडी को एक ही लेन में रखें. बहुत से लोग अपनी गाडी को इधर उधर घुमाकर बीच में फसा देते हैं जिससे स्थिति और गंभीर हो जाती है.

अगर आप ऐसा करते हुए पकडे गए तो समझो आपका काम हो गया. इसलिए हमेशा धैर्य रखते हुए जाम के खुलने का इंतज़ार कीजिये और ऐसा करने में यातायात पुलिस का सहयोग कीजिये.

(10) सुरक्षित ओवरटेक – Indian Traffic Rules In Hindi में अब हम आपको Overtake करने के नियम बताएँगे. आपको हमेशा आपके वाहन के हिसाब से गति सीमा का ध्यान करते हुए ओवरटेक करना होता है. इसके अतिरिक्त ओवरटेक करने के लिए सही जगह और सही समय का चुनाव जरुरी है.

अगर आप भीड़ भाड़ वाले इलाके में भी बार बार ओवरटेक कर रहे हैं और गति सीमा से बाहर निकल रहे हैं तो आप जुर्म कर रहे हैं. हर जगह के लिए एक गतिसीमा तय होती है. और अगर आपके आगे वाला व्हीकल गति के अनुरूप चल रहा है तो आप भी उसके पीछे पीछे ही चलें. सही जगह मिलने पर ही ओवरटेक करें.

(11) U टर्न और Breakers – आप देखते होंगे की सड़कों पर जगह जगह सफ़ेद लाइन्स बनी होती हैं. इसका मतलब ये है की आगे Breaker है और आप अपनी गाडी की गति को कम करलें. अगर आप उसे नज़रंदाज़ करके ब्रेकर के ऊपर से गाडी कुदाते हैं तो आपको जुर्माना हो सकता है.

इसके अलावा सड़कों के किनारे लगे Sign Boards पर भी ब्रेकेर्स और U – Turn के बनाये जाते हैं. ऐसा आपकी सुरक्षा के लिए ही किया जाता है. ताकि आपको पहले से ही पता रहे हैं आगे U Turn आने वाला है. आप सतर्क हो जाएँ और गाडी की गति को धीमा करें. इससे आप खुद भी सुरक्षित रहेंगे और दुसरे भी.

(12) मोबाइल का इस्तेमाल – अगर आप गाडी चलाते हुए Mobile पर बात कर रहे हैं तो सरासर यातायात नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं. गाडी चलाते हुए मोबाइल इस्तेमाल करना अपराध है. यदि आप ऐसा करते हुए पकडे गए तो आपको जरूर जुर्माना होगा.

(13) इंडीकेटर्स और लाइट का प्रयोग – अगर आप गाडी चलाना शुरू कर रहे हैं तो आपको बतादें की Traffic Rules Of India अब पहले जैसे नहीं रहे. आपको छोटे से छोटे नियम का भी सख्ती से पालन करना होगा. जैसे अगर आपको Left साइड में मुड़ना है तो पहले Left Indicator को जलाएं.

इसी तरह से दायें मुड़ने के लिए Right Side वाला इंडिकेटर जलाएं. ओवरटेक करते समय अगर सामने से कोई साधन आ रहा है तो हेडलाइट जलाकर उसे गति धीमी करने का संकेत दें. अगर गाडी पुरानी है और Indicators काम नहीं कर रहे हैं तो आप अपने हाथ से दायें या बाएं मुड़ने का सिग्नल दे सकते हैं.

(14) Dipper का प्रयोग –  बड़ी गाड़ियों के बहुत सारे ड्राइवर्स ऐसे होते हैं जो रात के समय Dipper का प्रयोग करते ही नहीं है. इससे सामने से आने वाला सही से ना दिखाई देने के कारण दुर्घटना का शिकार हो जाता है.

आपको बतादें की Dipper का प्रयोग ना करना भी नियमों की अनदेखी है. अगर ऐसे ड्राइवर्स की शिकायत की जाए तो उन पर कार्रवाई हो सकती है. आप ऐसी गलती कभी ना करें और रात के समय Dipper का प्रयोग जरूर करें.

(15) सभी संकेतों को समझना – इंडिया में गाडी चलाने के लिए आपको सभी संकेतों को समझना जरूरी है. हर जगह अलग अलग तरह के sign boards लगे होते हैं जिनमें No Entry, One Way, No Overtaking, No Parking, School Sign, Animal Sign और Railway Crossing Line जैसे सिग्नल्स होते हैं.

आपको इन संकेतों की समझ होना जरूरी है. तभी आप लम्बे समय तक सुरक्षित तरीके से यात्रा कर पायेंगे. ट्रैफिक नियमों का पालन करना सभी की जिम्मेदारी है. सिर्फ चालन और पुलिस के डर से नहीं बल्कि वहां भी नियमों के साथ चलिए जहाँ Police ना हो.

इन्हें भी पढ़ें-

यर थी हमारी पोस्ट Traffic Rules Of India In Hindi – यातायात के नियम, जिससे आपको जरूर कुछ अच्छा सीखने को मिला होगा. पोस्ट पसंद आई हो तो इसे Share जरूर करें ताकि दुसरे लोगों तक भी ये जानकारी पहुंचे.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *