वैलेंटाइन्स डे क्यों मनाया जाता है पूरी जानकारी

वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है | Valentines Day In Hindi

Valentines day In Hindi – अपने प्यार का इज़हार करने या इसे और ज्यादा मजबूत बनाने के लिए सबसे उपयुक्त और ख़ास दिन है वैलेंटाइन्स डे. आज हम आपको बताने वाले हैं की वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है? इसके पीछे क्या कारण और मान्यताएं हैं. वैलेंटाइन्स डे क्या है और इसे कैसे मनाना चाहिए जानिये इस पोस्ट में.

इस दुनिया में तरह तरह के त्यौहार मनाये जाते हैं जिन्हें हर देश के लोग अलग अलग तरीके से मनाकर खुशियाँ मनाते हैं. जबकि कुछ त्योहारों के पीछे कुछ ऐसी मान्यताएं और रिवाज़ चले आ रहे हैं जो उस त्यौहार को मनाने का कारण माने जाते हैं. ठीक इसी तरह से Valentines Day को मनाने के कारण भी कुछ ऐसे ही हैं.

इसके पीछे कई तरह की कहानियां और बातें लोगों के बीच प्रचलित हैं. वैलेंटाइन डे क्यों मनाते हैं, ये हम आपको बताएँगे लेकिन पहले इसका इतिहास जानने की कोशिश करते हैं. की ये कबसे मनाया जाता आ रहा है, valentines day कब मनाया जाता है और इसकी विशेषताएं क्या हैं.

Valentine Day क्या है और इसे कैसे मनाया जाता है

दोस्तों वैलेंटाइन्स दिन का इतिहास कितने साल पुराना है इस बात का Exactly तो किसी को नहीं पता. इसको लेकर लोगों में अलग अलग तरह की बातें हैं. उन्ही के अनुसार बताया जाता है वैलेंटाइन्स डे की शुरुआत रोम से हुयी. इसके अलावा इसे हर साल फ़रवरी महीने में 14 तारीख को मनाया जाता है.

इसीलिए फरवरी को लोग “Love Month” भी बोलते हैं. जिस सप्ताह में वैलेंटाइन्स डे आता है उसे “Valentine Week” बोलते हैं. यह पूरा सप्ताह ही लोग इसे मनाते हैं. आपको शायद पता न हो की वैलेंटाइन वीक के सातों दिन अलग अलग तरीके से मनाये जाते हैं. “Valentine Week” की शुरुआत 7 फरवरी से ही हो जाती है.

लोग (ऐसे लोग जो इस दिन अपने प्यार का पहली बार इज़हार करने वाले होते हैं) इसे पूरी तरह Systematic तरीके से मनाते हैं. चलिए आपको बताते हैं की वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है और इसे 7 से लेकर 14 तारीख तक कैसे मनाते हैं. हर दिन युवा प्रेमी अलग स्टाइल में मनाते हैं और हर दिन को उन्होंने नया नाम दिया है.

  • 7 फरवरी को लोग “Rose Day” के रूप में मनाते हैं और जिससे प्यार करते हैं उसे फूल भेंट करते हैं.
  • 8 फरवरी को लोग ” Propose Day” के रूप में मनाते हैं और अपने दिल की बात अपने लव को बताते हैं. यानी Purpose करते हैं.
  • 9 फ़रवरी को लोग “Chocolate Day” मनाते हैं. अपना प्यार स्वीकार होने का बाद अपने प्रेमी को चॉकलेट्स गिफ्ट करते हैं.
  • 10 फरवरी को “Teddy Day” के रूप में मनाया जाता है. इस दिन कोई अच्छा सा Gift दिया जाता है जो उसे सदा याद रहे.
  • 11 फरवरी को “Promise Day” मनाया जाता है, जब प्यार करने वाले एक दुसरे का कभी साथ न छोड़ने के वादे करते हैं.
  • 12 फरवरी को “Hug Day” के रूप में मनाते हैं और एक दुसरे को कसकर बाहों में भरते हैं.
  • 13 फरवरी को “Kiss Day” होता है जिसके बारे में ज्यादा बताने की जरूरत नहीं है.
  • 14 फरवरी को “Valentines Day” होता है जब एक दुसरे से खुलकर प्रेम करने का दिन होता है. इसे कौन किस तरह मनाता है ये खुद उन पर निर्भर करता है.

तो देखा प्यार का ये पूरा सप्ताह कुछ इस तरह से मनाते हैं वैलेंटाइन्स डे मनाने वाले लोग. वैसे हम यहाँ एक बात जरूर कहना चाहेंगे की ये जरूरी नहीं की ये दिन सिर्फ प्रेमी और प्रेमिकाओं के लिए ही होता है. वैलेंटाइन्स डे प्यार का प्रतिक है और अपने प्यार को बढ़ावा देने के लिए कोई भी इसे अपने प्रियजन के साथ मना सकता है.

चाहे वो प्रियजन उसका दोस्त हो, परिवार का कोई सदस्य हो या फिर कोई भी वो व्यक्ति जो आपको अच्छा लगता है और आप जिसे Miss करते हो. कुछ लोग इस बात से सहमत नहीं होंगे, क्योंकि उनके दिमाग में ये पूरी तरह से बैठ चुका है की ये त्यौहार सिर्फ आपस में प्यार करने वाले लड़के और लड़कियों के लिए ही है.

Valentines Day In Hindi

सच तो ये है की जरूरी नहीं है की जिसको अपने प्यार का इज़हार करना होता है उसी के लिए ही ये त्यौहार करता है. अगर आपकी पहले से कोई GF या Bf है तो भी आप इसे आपस में मिलकर सेलिब्रेट करें. इसके अलावा अगर आप अपने किसी Family Member के साथ ज्यादा ही घुले मिले हुए हैं तो इस दिन अपने इस बंधन को और मजबूत कीजिये.

अगर आप लड़के हैं तो अपने ही दोस्तों के साथ मित्रता को और ज्यादा मजबूत बनाने के लिए इस त्यौहार को सेलिब्रेट करें. एक दुसरे को अच्छे अच्छे गिफ्ट्स दें और अच्छी अच्छी प्रोमिसेस करें. ये सब चीज़ें आपके संबंधों को और भी ज्यादा प्रगाढ़ता प्रदान करती हैं. इसी तरह अगर किसी लड़की का कोई BF नहीं है तो भी वो अपनी सहेलियों के साथ इसे मना सकती है.

मतलब ये प्यार का दिन है, पर जरूरी नहीं की ये प्यार सिर्फ कुंवारे लड़के और लड़की का ही हो. लेकिन बदकिस्मती से Valentines Day को पूरी तरह से बदल दिया गया है और अब ये सिर्फ नए लड़के लड़कियों का बनकर रह गया है. खैर आपने ये तो जान लिया है की वैलेंटाइन डे किसके साथ मनाया जाता है.

लेकिन बहुत से मेरे दोस्त ये भी जानना चाह रहे होंगे की वैलेंटाइन्स डे कैसे मनाना चाहिए? इस दिन क्या करना चाहिए? ताकि आपके और आपके साथी के लिए ये दिन स्पेशल बन जाए. तो चलिए इसके बारे में थोड़ी चर्चा कर ही लेते हैं. देखिये इस दिन आपको अपने साथी को अहसास करवाना होता है की वो आपके लिए बहुत ज्यादा ख़ास है.

आप हमेशा उसके बारे में सोचते रहते हैं और आपको उनसे ज्यादा फ़िक्र और किसी की भी नहीं है. अपनी Feelings को Express करने का इससे बढ़िया मौका कोई और नहीं होता. वैसे भी valentine day के बारे में एक बात प्रचलित है की इस दिन जो भी अपने साथी को purpose करता है, उसे स्वीकारोक्ति मिल ही जाती है.

ऐसा लोग क्यों कहते हैं इसका कारण भी हम आपको पोस्ट में आगे बताएँगे. फिलहाल जान लेते हैं की हमें वैलेंटाइन डे पर क्या करना चाहिए. अगर आप भी किसी से बहुत ज्यादा प्यार करते हैं तो यहाँ हम कुछ बातें आपको बता रहे हैं जिनकि बदौलत आपका ये दिन बहुत ही ख़ास बन जाएगा और आपका Valentines Day यादगार बनकर रह जाएगा.

देखिये ज़माना चाहे कितना भी आगे बढ़ गया हो लेकिन हाथ से लिखे हुए Love Letters सामने वाले व्यक्ति के दिल पर छप जाते हैं. इस बार अपने साथी को एक ऐसा लव लैटर दीजिये जिसे पढ़कर वो आपमें खो जाए. आप उस लैटर में ऐसी ऐसी बातें लिखें जिन्हें कोई भी पढ़कर सिर्फ और सिर्फ आपका हो जाए.

आपका प्रेम उनके प्रति कितना सच्चा है और आप उनके लिए क्या कर सकते हैं उन्हें खुलकर लैटर में बताइए. आपके दिल में उनके लिए जो प्यार है और बस सच्चे दिल से उस लैटर में उतार दीजिये. देखना उनकी आँखों में आंसू होंगे और उनमें आपके प्रति सम्मान कई गुना बढ़ जाएगा.

आपका लैटर पढ़कर उन्हें भली भाँती समझ आना चाहिए की आप हर साल वैलेंटाइन डे क्यू मनाते हैं, सिर्फ और सिर्फ उनके लिए. इसके अलावा आप उन्हें एक ऐसा गिफ्ट दें सकते हैं जिसे पाकर उसकी ख़ुशी का कोई ठिकाना ही ना रहे. वो सामने से आकर आपसे लिपट जाये और Thanks, Love U So Much कहे बिना ना रह सके.

इस दिन आप दोनों साथ में कहीं घूमने जा सकते हैं जहाँ आप दोनों सिर्फ और सिर्फ खुद में खोएं हो. या फिर आप अपने साथी को Dinner के लिए भी Invite कर सकते हैं. हर कोई अपने साथी के बारे में इतनी रिसर्च तो पहले से ही किये होता है की उसे क्या पसंद है और क्या नहीं. तो उसे Dinner में उसकी पसंदीदा चीज़ें खिलाएं.

इसके अलावा आप दोनों कोई बढ़िया सी फिल्म देखने जा सकते हैं. वहां भी आपको अच्छा समय बिताने का मौका मिल जाता है. या फिर उस दिन हर चीज़ को भूलकर घर पर ही रहें और आपस में पूरा दिन बस प्यार भरी बातों में ही बिताएं. और भी बहुत सारे तरीके हैं Valentines Day मनाने के.

जैसे उस जगह पर जाएँ जहाँ आप दोनों पहले बार मिले थे, या जहाँ आपने उन्हें पहली बार purpose किया था. पुरानी बातों को याद करके अपने प्रेम को बढ़ावा दें और दोनों साथ में मिलकर अपने दिन को यादगार बनायें. प्यार के चक्कर में हमारी ये पोस्ट बहुत ही लम्बी होती जा रही है.

तो चलिए अब असल सवाल यानी Valentines Day क्यों मनाते हैं” का जवाब देने का समय आ गया है. प्यार है ही ऐसी चीज़ जिसके बारे में अगर लिखने बैठो तो पता ही नहीं चलता की कितना लिखना है, बस हाथ चलते रहते हैं. इसीलिए तो कहते हैं की “प्यार में असीम शक्ति होती है, जिसे आप सिर्फ महसूस कर सकते हैं”.

Valentines Day In Hindi – वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है

वैलेंटाइन्स डे मानाने के पीछे बहुत से कारण और कहानियां बतायी जाती हैं. जब हम इस चीज़ पर रिसर्च करने बैठे तो हमारा सिर चकरा गया. क्योंकि Valentines Day के बारे में कई बातें यानी कहानियाँ तो ऐसी बताई गयी हैं जिन पर विश्वास करना हमारे बूते की बात नहीं थी.

लेकिन रिसर्च पूरी होने तक हमें 1 -2 ऐसे कारण पता चले जिनके चलते वैलेंटाइन्स डे मनाया जाता है. उनमें हमें कुछ सत्यता महसूस हुयी, जो हम आपको भी बता देते हैं.

वैलेंटाइन्स डे क्यों मनाया जाता है पूरी जानकारी

कहा जाता है की रोम में एक सनकी सम्राट हुआ करते थे. उनके दिमाग में अजीब अजीब सी बातें चलती रहती थी. एक बार जो उनके दिमाग में आ गया और अगर उन्हें वो चीज़ सही लगी तो उसे करवाकर ही मानते थे. लोग भी उनसे काफी डरते थे और उनका आदेश मानने पर मजबूर थे. उनका नाम था “Claudius”.

एक बार अपने ही कुछ साथियों के साथ हंसी ठिठोली करते वक़्त उन्हें किसी ने बताया की जिस राजा की सेना में अविवाहित लोगों की संख्या जितनी ज्यादा होगी, वो सेना उतनी ही ज्यादा मजबूत होगी. Claudius ने इसका कारण पूछा तो उसने बताया की विवाहित युवकों में वो बात नहीं रहती जो कुंवारें सिपाहियों में होती है.

क्योंकि वो तो बस घर ग्रहस्थी की जिम्मेदारियों में ही टूट चुके होते हैं. उनके दिमाग में बस अपनी जिम्मेदारियां ही चलती रहती हैं जिससे वो मानसिक रूप से कमजोर हो जाते हैं.

Claudius के दिमाग में ये बात पूरी तरह से बैठ गयी और आदेश जारी किया की उनकी सेना में शामिल कोई भी अविवाहित सिपाही शादी नहीं करेगा. उनके सिपाही इस बात से काफी दुखी हुए लेकिन वो उनकी बात मानने को मजबूर थे. ये बात रोम के ही एक संत के कानों तक पहुंची और उन्होंने सिपाहियों की मदद करने की सोची.

उन्होंने ऐसे सिपाहियों से मुलाकात की जो अपने किसी साथी से प्यार करते थे और उनसे शादी करना चाहते थे. उन संत का नाम था “Valentines”. आप समझ गए होंगे की उन्ही के नाम पर इस दिन का नाम “Valentines day” पड़ा. उन्होंने सिपाहियों को अपने प्यार से मिलवाने और उनसे उनकी शादी करवाने की ठान ली.

उन्होंने कई सिपाहियों की शादी करवा भी दी. लेकिन एक दिन इस बात का पता Claudius को चल गया और उन्होंने उसको पकड़कर मौत की सजा सुना दी. उन्हें तुरंत जेल में डाल दिया गया. कहा जाता है की संत Valentines में कुछ दिव्य शक्तियां थी. वहीँ पर जेल में उनकी मुलाक़ात एक जेलर से हुयी.

चूँकि जेलर को पता था की वैलेंटाइन्स कोई आम इंसान नहीं हैं, उनके पास शक्तियां हैं. तो उन्होंने वहां जाकर उनसे अनुरोध किया की वो अपनी शक्ति से उनकी बेटी की आँखें ठीक कर दें. जेलर की एक जवान बेटी थी जिसकी आँखें खराब थी. Valentines एक दयालु इंसान थे, उन्होंने अपनी शक्तियों से लड़की की आँखें ठीक कर दी.

जब जेलर घर गया तो उनकी लड़की ख़ुशी से नाच रही थी. जेलर ने उसे सारी बातें बताई तो उनकी बेटी ने “Valentines” से मिलने की इच्छा जाहिर की. जब जेल में वो उनसे मिली तो उन्हें पहली नज़र में ही दोनों को आपस प्यार हो गया. घर जाने के बाद भी वो बस Valentines के विचारों में ही खोयी रहती. दिनों दिन उसका प्यार बढ़ता गया.

लेकिन उसे इस बात का नहीं पता था की Valentines को फांसी होने वाली है. जब उसके पिता ने उसे ये बात बताई तो वो बहुत रोई, चीखी. आखिर फांसी का दिन यानी 14 फरवरी आ गयी, इसी दिन valentines को फांसी होनी थी. जेलर ने Valentines को अपनी बेटी की हालत के बारे में बताया.

फांसी से ठीक पहले Valentines ने जेलर की बेटी को एक Love Letter दिया जिसमें उन्होंने अपने दिल की बातें और अलविदा सन्देश लिखा. और आखिर में (- तुम्हारा Valentines) लिखा. इसके बाद उन्हें फांसी दे दी गयी. यही कारण था की इस दिन को Valentines Day के रूप में मनाया जाने लगा. इसीलिए इस दिन लव लैटर देने का चलन शुरू हुआ.

तो दोस्तों वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है आपको पता चल ही गया है. लेकिन जरा रुकिए, इसी तरह की एक और कहानी है Valentines Day की शुरुआत की. अब ये भी कितनी सत्य है, इसका हमें नहीं पता. लेकिन इस कहानी में भी सम्राट Claudius और संत Valentines दोनों विद्यमान हैं.

कहानी कुछ यूँ हैं की राजा Claudius की संत Valentines की मुलाक़ात के दौरान आपस में कई बातें हुयी. चूँकि Valentines एक ख़ास व्यक्ति थे, तो राजा उनसे मिलना चाहते थे. उसी मुलाक़ात के दौरान Claudius ने Valentines को क्रिस्चियन धर्म छोड़कर दूसरा कोई धर्म बदलने को कहा.

वैलेंटाइन्स ने राजा के इस (आदेश या आग्रह) को ठुकरा दिया. उस दौरान Valentines उसी जेलर की बेटी के प्रेम में पड़े हुए थे. Claudius को ये बात पता चली और उन्हें अपने प्यार की दुहाई देते हुए फिर से वो बात मानने को कहा. लेकिन Valentines ने उल्टा उन्हें ही क्रिस्चियन बनने की सलाह दे दी.

Claudius ने इसे अपना अपमान समझा, और अपने आदेश की अनदेखी करने के लिए Valentines को फांसी की सजा सुना दी. जेलर की बेटी को भी ये बात पता चली और वो बहुत रोई. आखिर 14 फ़रवरी को उन्होंने फांसी से पहले उस लड़की को प्रेम पत्र दिया और इस दुनिया को अपना प्यार सफल हुए बैगैर ही अलविदा कह गए.

तो Valentines Day क्यों मनाते हैं है इसके हमने आपको 2 बड़े कारण बता दिए हैं. कारण चाहे जो भी आप इस साल अपने Valentines Day को ख़ास बनाने में कोई कोर कसर मत छोड़ियेगा. अपने साथी की भावनाओं को समझते हुए उन्हें अहसास दिलवाइए की आपके लिए उनसे बढ़कर और कोई नहीं है.

क्योंकि समय बार बार मौका नहीं देता. एक बात समझ लीजिये की अगर आप किसी से प्रेम करते हैं तो उसे इसके बारे में बताएं जरूर. हो सकता है सामने वाला आपके प्यार को रिजेक्ट कर दे, पर इसमें उसकी गलती ना समझें. बस किस्मत समझ कर उसे अपने हाल पर छोड़ दीजिये. आपसे विनती है की उसका बुरा कभी ना सोचें.

बहुत से लोग अपना एक तरफ़ा प्यार विफल होने पर वाहियात कदम उठा लेते हैं. सामने वाले को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करते हैं. दोस्तों ये प्यार नहीं है, अगर आप ऐसा करने के लिए तैयार हो गए तो समझिये आपका प्यार ही सच्चा ही नहीं था. क्योंकि अगर किसी से कोई प्यार करता है तो वो उसकी बहुत केयर और इज्जत करता है.

हमारी तरह से आपको Valentines Day 2020 पर हार्दिक शुभकामनाएँ. सब के साथ प्रेम से रहिये, याद रखिये इस दुनिया में प्यार से बड़ी कोई चीज़ नहीं है. प्यार को महसूस करके देखिये सच्चे दिल से. आपको सब समझ आ जाएगा.

ये भी पढ़ें –

तो ये थी हमारी पोस्ट वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है – Valentines Day In Hindi. अगर आपको वैलेंटाइन्स डे की जानकारी पसंद आई हो तो हमारी पोस्ट को Like और Share जरूर करें. पोस्ट से सम्बंधित कोई और सवाल हो तो comment box में comment करके पूछ लीजिये. धन्यवाद.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *