खुश कैसे रहे

जीवन में हमेशा खुश कैसे रहे | How To Be Happy In Hindi

हम और आप अक्सर सोचते हैं की हमेशा खुश कैसे रहे या फिर खुश रहने के तरीके कौन कौन से हैं. हमारा जीवन अब कुछ ऐसा हो गया है की हम जीते तो जा रहे हैं लेकिन उसमे मज़े वाली बात नहीं रही है. हम खुश नहीं रह पा रहे हैं, इसीलिए आज हम कुछ ऐसे खुश रहने के उपाय जानेंगे जिनसे हमें कुछ ना कुछ मदद तो जरूर मिलेगी.

खुद के द्वारा बुने गए जाल में हम कुछ इस तरह फंस गए हैं की हमें बार बार सोचना पड़ रहा है की Life में हमेशा खुश रहने के लिए क्या करें. ये लेख उन्ही लोगों के लिए हैं जिन्होंने जीवन के प्रति अपना Intrest खो दिया है. हम उन्हें बताने की कोशिश करेंगे की सदा Happy कैसे रहें. चलिए जानते हैं How To Stay Happy Always In Hindi.

कुछ विशेषज्ञ मानते हैं की जो आदमी जितना ज्यादा Pressure लेकर चलेगा वो उतना ही ज्यादा निखरेगा, लेकिन इसका एक दूसरा पहलू भी है. बहुत से लोग ज्यादा दबाव के कारण टूट जाते हैं, उदास रहने लग जाते हैं यहाँ तक की मानसिक रोगी भी बन जाते है.

लगातार उदास रहते रहते उनका दिमाग स्थाई रूप से इसी State में चला जाता है और वो सदा उदास रहने लगते हैं. सबसे पहले हमें ये जानने की कोशिश करनी है की आखिर ऐसा क्या हो गया है जिससे जीवन से ख़ुशी ही गायब हो गयी है. पहले हमें उन कारणों को जानना होगा.

उसके बाद हमें खुश रहने के तरीके खोजने होंगे. हमारे देश में तो ये समस्या गंभीर रूप धारण करती जा रही है. हमारे देश में 50% लोगों की आर्थिक स्थिति इतनी ख़राब है की उन्हें खुश होने का कोई कारण ही नज़र नहीं आता. कारण कहाँ से नज़र आएगा, सुबह आँख खुलते ही उनके सामने दिन भर में आने वाली चुनौतियाँ मुहं फाड़कर खड़ी हो जाती हैं.

जिम्मेदारियों के चक्कर में वो इतने चिडचिडे हो चुके हैं की अब छोटी छोटी बातों में तो उन्हें खुशी नज़र ही नहीं आती. हमेशा दिमाग में बस चिंताएं बहती रहती हैं. इसके अलावा एक दूसरा तबका भी है जिन्हें अमीर कहते हैं, वो भी अब खुश नहीं रह पा रहे हैं.

उनके कुछ अलग कारण है, जैसे उनके घटिया शौक और छोटी कामयाबियों को Ignore करना. उनकी Lyfstyle कुछ ऐसी है की दिमाग पर बहुत ज्यादा Pressure रहता है. दिखावे के लिए वो हँसते रहते हैं लेकिन अन्दर कुछ और ही चल रहा होता है.

यहाँ हम एक बात जरूर कहना चाहेंगे, पैसे के पीछे भागते भागते आदमी ने अपनी दिल की खुशी को खो दिया है, अब पैसे से वो खरीदी नहीं जा सकती. बताइए किस काम आया पैसा, हम अपने जीवन में जो भी कार्य करते हैं वो ख़ुशी पाने के लिए करते हैं, लेकिन अगर वो ही ना मिले तो फिर ये पैसा किस काम का.

खुश रहने के तरीके व् उपाय

आज लोगों के पास पैसों का ढेर है, लेकिन खुशी का Bank Balance बहुत कम है, या फिर है ही नहीं. जिन लोगों के पास अथाह पैसा है वो भी इसी सोच में पड़े रहते हैं की खुश कैसे रहे. इससे एक बात साबित हो जाती है की दिल से खुश होने के लिए पैसा कोई मायने नहीं रखता है.

आप अमीर हैं या गरीब, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. हमने ऐसे ऐसे गरीब देखे हैं जो अपनी बढ़िया Thinking, आदतों और Lyfestyle के कारण हमेशा खुश रहते हैं, उन्हें इसके लिए पैसों की जरूरत नहीं पड़ती.

इसके अलावा ऐसे ऐसे अमीर भी देखे हैं जिनके पास ढेर सारा पैसा होते हुए भी अपनी घटिया थिंकिंग, बेकार आदतों और कमजोर लाइफस्टाइल के कारण 24 घंटे दुखी ही रहते हैं. हमारे कहने का मतलब ये है की खुश रहना या ना रहना खुद आदमी पर निर्भर करता है.

अगर शुरू से आप इन बातों को समझ लोगे तो जीवन में हमेशा खुश रहने का मंत्र, उपाय या तरीके आपको किसी से पूछने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी.. हम दावे के साथ कहते हैं की आदमी में अगर अच्छे गुण हैं तो नकारात्मक शक्तियां उससे दूर ही रहती है. तो खुश रहने के लिए हमें अपनी आदतें बदलनी होंगी.

चलिए अब हम आपको बताते हैं की Life में हमेशा खुश रहने के लिए क्या करें. मतलब हम आपको देने जा रहे हैं All Time Happy Life Tips In Hindi जिन्हें मानकर आप देखेंगे तो सिर्फ 2 महीने के अन्दर अन्दर आपमें एक ख़ास बदलाव देखने को मिलेगा.

इतना ही नहीं आप दिल से असीम ख़ुशी महसूस करना शुरू कर देंगे. इसके लिए आपको कोई Happiness की  दवा लेने की जरुरत नहीं है बस अपने आप को थोडा बदलिए, थोड़ी आदतें बदलिए. चलिए शुरू करते हैं.

How To Be Happy In Hindi – खुश कैसे रहे

(1) हमेशा वर्तमान में जीयें– देखिये हमारी ख़ुशी गायब होने का सबसे बड़ा कारण है भविष्य की चिंता करना. हम सभी अपने आने वाले समय के लिए इतना भयभीत और चिंतित रहते हैं की खुश रहना ही भूल जाते हैं. आगे चलकर क्या होगा, कैसे हो पायेगा ये सब सवाल दिमाग में चलते रहते हैं.

आपको ऐसे विचारों पर लगाम लगाने की जरुरत है. इससे आपको काफी राहत मिलेगी. भविष्य की चिंता करना बनता है, लेकिन इतनी नहीं की हम खुश रहना ही भूल जाएँ. अभी जो समय चल रहा है उसका आनंद लें, क्योंकि ये समय एक बार जाने के बाद दुबारा लौट कर नहीं आएगा.

अपने भविष्य के चक्कर में हम अपना वर्तमान भी खराब कर देंगे तो हमारा पूरा जीवन ही खराब हो जायेगा. इसलिए ज्यादा आगे की ना सोचें और खुश रहने का प्रयास करें.

(2) खुशी को पैसे के साथ ना जोड़ें– ये Point उन लोगों के लिए है जिनके पास पैसे नहीं हैं और वो सोचते रहते हैं की पैसे वाले कितने खुश रहते होंगे. हम उनको बताना चाहते हैं की ये 1% भी सच नहीं है. दिल की ख़ुशी का पैसे से कोई लेना देना नहीं है.

इसलिए कभी भी पैसे के चक्कर में अपनी छोटी छोटी खुशियों को जाया ना जाने दें. पैसा आज तक किसी को ख़ुशी दे पाया है, जो आपको दे पायेगा. हम आपको कितने ही उदाहरण दे सकते हैं, आप Michael Jackson को ही ले लें. कितनी बड़ी हस्ती थे वो, कितने पैसे थे उनके पास.

लेकिन शायद आपको पता नहीं होगा की वो बिलकुल भी खुश नहीं रह पा रहे थे और लगातार Pshyciatrists के संपर्क में रहते थे. उनकी जेबें तरह तरह की दवाओं से भरी पड़ी रहती थी. आखिर वो मर गए लेकिन पैसे से कभी ख़ुशी नहीं खरीद पाए.

(3) सकारात्मक रहना सीखें– आदमी जब भी Negative विचारों के झोल में फंसता है, हमेशा दुखी हो जाता है. हमेशा उल्टा सोचने की आदत जैसे, मुझसे नहीं हो पायेगा, मेरा काम तो बनेगा ही नहीं या अपनी तो किस्मत ही खराब है जैसे विचार आपको दुखी रहने पर मजबूर करते हैं.

इससे दिमाग पर नकारात्मक शक्ति का प्रभाव बढ़ जाता है और आप खुश नहीं रह पाते हो. हमें किसी और से पूछने की बजाय अपने दिल से पूछना चाहिए की खुश कैसे रहे या How To Be Happy.

आपके अन्दर से आवाज़ आएगी की आप ये गलत काम कर रहे हैं, उसे छोड़ें, उसके बाद आप अपने आप खुश रहने लग जायेंगे. Positivity एक बहुत ही बेहतरीन खुश रहने का तरीका है.

खुश कैसे रहे

(4) मदद करना सीखें, मददगार बनें– ये दिखने में छोटी सी बात लगती है, लेकिन यकीन मानिए आपको अन्दर से बहुत खुश बना सकती है. कभी किसी की जरुरत के समय काम आकर देखें, उसके दिल से निकली दुआ आपकी ज़िन्दगी बदल देगी.

गरीब आदमी की की गयी मदद कभी जाया नहीं जाती, बस आप उसका बखान करते ना फिरें. ये आपको असीम सुख का अनुभव देगी और यकीन मानिए लम्बे समय तक देगी.

(5) दिल की सुनें, दिल कुछ कह रहा है– हम सब आजकल अपने दिमाग पर ज्यादा भरोसा कर रहे हैं, ये ठीक भी है, लेकिन दिल को बिलकुल Ignore कर देना भी सही नहीं होता. अब तो ऐसा समय आ गया है की लोग रिश्तेदारी और दोस्ती भी दिमाग से निभाते हैं.

ये बहुत गलत है और आप एक नीरस जीवन की और बढ़ते जा रहे हैं. आपको अपने दिल की भी सुननी होगी. जब भी हम किसी के बारे में गलत सोचतें है या फिर कोई गलत काम करने जा रहे होते हैं तो हमारा दिल हमें एक बार संकेत जरूर देता है की ऐसा मत करो, ये गलत है यार.

लेकिन हम उसको अनसुना कर देते हैं और वो गलत काम कर डालतें हैं. तो ऐसे में होता क्या हैं की हो सकता है कुछ समय बाद दिमाग उस बात को भूल जाए, लेकिन दिल में हमेशा वो खटकती ही रहेगी और आपकी ख़ुशी में अडंगा लगाएगी.

(6) तुलना करना छोड़ दें– जब भी आप खुद की या अपने बच्चों की दुसरे के बच्चों से तुलना करोगे आप दुखी हो जाओगे, आपकी ख़ुशी गायब हो जायेगी. देखिये हर इंसान की अपनी अलग विशेषता होती है, दूसरों के साथ तुलना करना गलत है.

आप सोचिये अगर पूरा देश नरेन्द्र मोदी से तुलना करने लग जाए तो क्या होगा? पूरा देश दुखी हो जाएगा, क्योंकि इस देश में प्रधान मंत्री तो सिर्फ 1 ही होता है. तुलना करना एक ऐसी चीज़ है जिसने बादशाह अकबर को भी Depression का शिकार बना दिया था, फिर हमारी क्या औकात है.

कभी भी दुसरे को देखकर अपने ऊपर ज्यादा दबाव ना बनायें. आप जैसे हैं श्रेष्ठ हैं, दूसरों के चक्कर में पड़कर खुद का दिमाग खराब ना करें. ये इस बात पर निर्भर करता है की आप अपने बारे में क्या सोचते हो. अगर माने जाए तो ये बहुत ही कारगर खुश रहने के उपाय हैं.

(7) माफ़ करने वाले बनें– अपने आप को हमेशा ऐसा बनायें की दूसरों को आसानी से माफ़ कर सको और जल्दी से जल्दी उस बात को भुला सको. आपने बहुत जगह पढ़ा और सुना होगा की माफ़ करने वाला इंसान बहुत बड़ा होता है.

हर छोटी मोटी बात को दिल पर ना लें. ये ज़िन्दगी का सफ़र है, यहाँ लोगों के साथ पता नहीं क्या क्या हो जाता है और आप छोटी सी बात को पकड़कर बैठे हो.

(8) अपनी संगत बदलें– हम बचपन से पढ़ते आ रहे हैं की आप जैसे लोगों के साथ रहोगे, वैसे ही बन जाओगे. ये बिलकुल सत्य है, इसीलिए हमें ये ध्यान देने की जरुरत है की हम कैसे लोगों के साथ ज्यादातर समय बिता रहे हैं.

कभी भी नकारात्मक सोच वाले लोगों के साथ नहीं रहना चाहिए, इससे आपके दिमाग पर गलत असर पड़ता है और आप भी ऐसा ही सोचने लग जाते हो. ऐसा होते होते आप हमेशा उदासी के आगोश में रहना शुरू कर देते हो.

इसीलिए अगर आप बुरे लोगों की संगत में फंसे हुए हैं तो तुरंत ही उनका साथ छोड़ दें, नहीं तो एक दिन ऐसा आएगा की आप ख़ुशी को ढूढ़ रहे होंगे और ख़ुशी आपसे दूर जा चुकी होगी. ये कुछ ऐसे खुश रहने के तरीके हैं जिन पर ध्यान देना आवश्यक है.

(9) इर्ष्या और बदले की भावना छोड़ें– हमारे अन्दर जो दूसरों के प्रति द्वेष है ना वो हमेशा लगातार दुखी बना रहा है. उसने हमारे साथ ये किया, अब मुझे बदला जरूर लेना है, ये विचार जब आदमी के दिमाग में आने लग जाते हैं ना तो ख़ुशी उस आदमी का साथ छोड़ देती है.

इसलिए इर्ष्या और द्वेष का त्याग करना जरुरी हो जाता है, ये दुनिया सबके लिए बनी है, यहाँ सबको जीने का बराबर हक़ है. अपने दिल और दिमाग को साफ़ रखिये, किसी के बारे में उल्टा मत सोचिये. ऐसा करेंगे तो उल्टा लोग आपसे पूछने आया करेंगे की खुश कैसे रहे. क्योंकि आपके चेहरे पर सदा एक मुस्कान रहने लगेगी.

अगर आप ऐसा करने में कामयाब हो गए तो समझो ख़ुशी हमेशा के लिए आपकी होकर रह जायेगी. ख़ुशी का ये उसूल है की वो कभी भी इर्ष्या के साथ नहीं रहती है, आप खुद सोच लीजिये की इन दोनों में से आपको कौनसी चीज़ अपने पास रखनी है. ये बहुत ही महत्वपूर्ण Happy Life Tips हैं जो जरूर बदलाव लायेंगे.

(10) भगवान् पर भरोसा करें– अगर आप भगवान् को मानते हैं, तो आपके लिए काफी कुछ आसान हो जाएगा. आपमें ये विश्वास होना चाहिए की भगवान् हमेशा आपके साथ हैं और कुछ भी बुरा होगा तो वो संभाल लेंगे. इसके लिए आपको परमात्मा के साथ अपना मज़बूत रिश्ता बनाना होगा, ऐसा तभी संभव है जब हर रोज आप उनका कुछ देर ध्यान करें.

इस सृष्टि के रचियता भगवान् हैं, उनसे बड़ी चीज़ इस दुनिया में कोई नहीं है. हर समस्या का समाधान उनके पास मौजूद है. कुछ स्थितियां ऐसी होती है जिन पर आदमी का कोई जोर नहीं चलता, उन्हें केवल भगवान् ही ठीक कर सकता है. तो भगवान् पर भरोसा करें और आने वाले समय की चिंता उन पर छोड़ दें.

इन्हें भी पढ़ें –

ये था हमारा लेख जीवन में हमेशा खुश कैसे रहे – How To Be Happy In Hindi जिसमें आपने खुश रहने के उपाय व् तरीकों के बारे में जाना. पोस्ट आपको कैसी लगी हमें comment करके जरूर बताएं और हाँ पोस्ट को Like और Share करना बिलकुल ना भूलें.

अगर आप इसी तरह की और भी नयी नयी जानकारियां चाहते हैं तो हमारे साथ जुड़ जाइए. हमारे साथ जुड़ने के लिए हमारे Facebook Page को Like करें व् हमें Subscribe जरूर करलें. धन्यवाद.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *